ऑपरेशन थियेटर में लेटा था मरीज, औजार लेकर भाग गये अस्पताल कर्मचारी

0
602

पटना : बिहार की राजधानी पटना में स्थित बिहार के सबसे बड़े मेडिकल कॉलेज एंड अस्पताल में सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है. शुक्रवार को स्थिति यह रही कि पीएमसीएच के ऑपरेशन थियेटर में दर्जनों की संख्या में घुस कर पारा मेडिकल कर्मचारियों ने हंगामा शुरू कर दिया. इतना ही नहीं ऑपरेशन के लिए ओटी टेबुल पर लेटे मरीज को डॉक्टरों ने जैसे ही ऑपरेशन के पूर्व एनेस्थेसिया देना शुरू किया, कर्मचारियों ने ऑपरेशन के सभी औजार को फर्श पर गिरा दिये,यहां तक कि कुछ औजार को कर्म चारी वहां से लेकर निकल गये. गनीमत यह थी कि दोनों मरीजों की सर्जरी शुरू नहीं हुई थी. वरना, परिणाम कुछ और होता.

नहीं हो सका ऑपरेशननमें से एक मरीज के यूरोलॉजी का व एक मरीज के बच्चेदानी का ऑपरेशन करना था . हालांकि , मौके पर पहुंचे एनेस्थेसिया हेड डॉ विजय गुप्ता ने बाद में औजार का इंतजाम किया, तो महिला मरीज के बच्चेदानी का ऑपरेशन हुआ. वहीं, यूरोलॉजी वाले मरीज का ऑपरेशन नहीं हो सका. निश्चेतना विभाग के अध्यक्ष डॉ अशोक कुमार का कहना है कि महिला व प्रसूति विभाग में आवश्यक तैयारी नहीं होने की स्थिति में आॅपरेशन टाल दिये गये. दूसरी ओर बिहार चिकित्सा वजन स्वास्थ्य कर्मचारी संघ के तहत बिहार राज्य अनुबंधित पारा मेडिकल कर्मचारी संघर्ष समिति के बैनर तले एकत्रित हड़ताली पारा मेडिकल कर्मियों ने अधीक्षक कार्यालय के समक्ष धरना दिया. बाद में प्रदर्शन करने वाले कर्मचारियों को बलपूर्वक वहां से हटाया.

पीएमसीएच में टले 17 ऑपरेशन

पीएमसीएच में तीसरे दिन भी संविदा कर्मचारियों का हड़ताल जारी रही. शुक्रवार को कुल 35 ऑपरेशन होने थे, लेकिन हड़ताल के कारण सिर्फ 18 ऑपरेशन ही किये गये. 17 ऑपरेशन अन्य दिनों के लिए फिर टाल दिये गये. वहीं, एनेस्थेसिया विभाग के हेड डॉ विजय गुप्ता ने बताया कि गंभीर मरीजों की सर्जरी हमारे लिए पहली प्राथमिकता है. यही वजह है कि हड़ताल के बाद भी रोजाना कई ऑपरेशन हो रहे हैं. उन्होंने कहा कि डॉक्टरों की आपसी सहयोग के चलते 18 ऑपरेशन किये गये. इसमें गायनी में 5, हड्डी विभाग में 5, इएनटी में 1 व आइ डिपार्टमेंट में 5 ऑपरेशन टले.

एनएमसीएच में31 ऑपरेशन टले

नालंदा मेडिकल कॉलेज अस्पताल में बुधवार से कायम पारा मेडिकल कर्मियों की अनिश्चितकालीन हड़ताल तीसरे दिन शुक्रवार को भी यथावत रही. अस्पताल में लगातार तीसरे दिन 31 मरीजों के आॅपरेशन टल गये. इस तरह तीन दिनों के अंदर अस्पताल में 92 मरीजों का आॅपेरशन हड़ताल की वजह से नहीं हो सका.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here