लालू परिवार को ‘मिट्टी घोटाले’ में क्लीन चिट

0
240

मिट्टी घोटाले में घिरे लालू यादव के परिवार को बड़ी राहत मिली है। मुख्य सचिव अंजनी कुमार सिंह ने मिट्टी घोटाले के आरोप में लालू परिवार को क्लीन चिट दे दी है। मुख्य सचिव ने कहा है कि राज्य में कोई मिट्टी का घोटाला नहीं हुआ है। राज्य सरकार का कहना है कि जांच रिपोर्ट में इस तरह के किसी घोटाले का पता नहीं चला है, ऐसे में किसी भी शख्स पर कोई आरोप नहीं बनता है। दरअसल, मिट्टी घोटाले को लेकर बीजेपी नेता सुशील कुमार मोदी सहित पूरा विपक्ष नीतीश सरकार पर ताबड़तोड़ हमले कर रहा था। सुशील मोदी ने पिछले 15 दिनों के दौरान लालू फैमिली पर कई आरोप लगाए थे। खासकर तेज प्रताप यादव की कथित भूमिका लेकर बीजेपी उनके इस्तीफे पर अड़ी थी।

घोटाला हुआ ही नहीं, फिर किसकी जांच

इस बीच सरकार ने इस पूरे मामले की जांच कराई और पाया कि बिहार में मिट्टी का कोई घोटाला ही नहीं हुआ है। राज्य के मुख्य सचिव अंजनी कुमार सिंह ने इस जांच के बाद कहा कि मिट्टी घोटाला नहीं हुआ है। सियासी पंडितों का कहना है कि सरकार के इस फैसले के बाद बैकफुट पर खड़ी लालू फैमिली के लिए यह रिपोर्ट किसी संजीवनी से कम नहीं है। बता दें कि पटना में बन रहे एक मॉल की मिट्टी को जू में लगाने को लेकर सुशील मोदी ने लालू यादव समेत उनके परिवार पर बड़े आरोप लगाए थे। उन्होंने कहा बड़े पैमाने पर पैसे की हेराफेरी हुई है। वहीं, सुशील मोदी इस घोटाले को उजागर करने में लगातार प्रेस कांफ्रेंस कर लालू के परिवार पर हमलावर रहे हैं। आज भी सुशील मोदी इस बारे में नया खुलासा किया है, लेकिन इस बीच राज्य के मुख्य सचिव ने लालू पर लगे आरोपों को खारिज करते हुए उन्हें क्लीन चिट दे दिया है। बता दें कि सुशील मोदी ने 90 लाख के मिट्टी घोटाले का आरोप लगाया है, इसका जवाब देते हुए राज्य के मुख्य सचिव ने कहा है कि 9 लाख की मिट्टी का उपयोग हुआ है कोई घोटाला नहीं हुआ है। मुख्य सचिव की रिपोर्ट आने के बाद राजद विधायक शक्ति सिंह यादव ने कहा है कि सुशील मोदी का झूठ अब सामने आ गया है। अब सुशील मोदी को इस्तीफा दे देना चाहिए और जनता से माफी मांगनी चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here