हमारे पास सैनिकों के खिलाफ सबूत, PAK एक्शन ले: भारत

0
243
नई दिल्ली(SPK News Desk).फॉरेन मिनिस्ट्री के स्पोक्सपर्सन गोपाल बागले ने कहा कि शहीद जवानों के साथ बर्बर व्यवहार पाकिस्तानी सेना ने किया है और हमारे पास इसके सबूत हैं। उन्होंने कहा, “शहीदों के सिर काटे जाने की घटना पर भारत में जो गुस्सा है, उसे पाकिस्तान हाईकमिश्नर अब्दुल बासित को बताया गया। उम्मीद है कि वो अपनी सरकार को इस बारे में बताएंगे।” इस मामले में फॉरेन सेक्रेटरी एस जयशंकर ने बुधवार को अब्दुल बासित को तलब किया।बागले ने कहा कि पाकिस्तान इस घटना में अपनी सेना के होने से इनकार कर रहा है। बता दें कि पाकिस्तानी आर्मी ने सोमवार को LoC पार की। पुंछ में भारतीय इलाके में 250 मीटर अंदर तक घुसी पाक बॉर्डर एक्शन टीम (BAT) ने आर्मी-बीएसएफ की पेट्रोल पार्टी पर हमला कर दिया। इसके बाद हमले में शहीद हमारे दो जवानों के सिर काट लिए। शहीद नायब सूबेदार परमजीत सिंह और शहीद बीएसएफ के हेड कॉन्स्टेबल प्रेम सागर का अंतिम संस्कार किया जा चुका है। ये उकसाने वाली घटना है- भारत…
– अब्दुल बासित और एस जयशंकर की मुलाकात के बाद गोपाल बागले ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर अहम बातें बताईं।
– बागले ने कहा, “मुलाकात में फॉरेन सेक्रेटरी ने कहा कि इस घटना को लेकर भारत में आक्रोश है। हमारे जवानों के अंग-भंग करने की घटना को लेकर देश में गुस्सा है। ये एक बर्बर हत्या है। पाकिस्तान के उच्चायुक्त को हमारे गुस्से के बारे में बता दिया गया है।”
– “भारत सरकार इस हरकत को सभ्यता के मापदंडों से परे समझती है। इस तरह की घटना उकसाने वाली है।”
रोजा नाले में खून के निशान मिले
– “पाकिस्तान की पोस्ट से हमारी तरफ गोलीबारी की गई। पाकिस्तान की सेना जो हरकत कर रही थी, उसे कवर करने के लिए ये गोलीबारी की जा रही थी। हमारे जवानों के खून के सैंपल इकट्ठा किए गए हैं। रोजा नाले में ब्लड ट्रेल मिलाी है। जो साफ दिखाती है कि हत्यारे लाइन ऑफ कंट्रोल की तरफ वापस लौट गए। हमारे पास इस बात के पुख्ता सबूत हैं कि ये हरकत पाकिस्तान की सेना ने की है।”
जिम्मेदारों पर कार्रवाई की जाए
– गोपाल बागले ने कहा कि इस भारत ने PAK से कहा है कि इस अमानवीय घटना के लिए जो भी सिपाही या कमांडर हों, उन पर पाकिस्तानी सरकार तुरंत भारत सरकार ने मांग की है कि उनकी सेना में जो भी सिपाही या कमांडर इसके लिए जिम्मेदार हैं, उनके खिलाफ तुरंत कार्रवाई करनी चाहिए।”
4 दशकों तक थोपे हुए आतंकवाद का शिकार हुए
– “हम चार दशकों से ज्यादा से थोपे गए आतंकवाद का शिकार हुए हैं। ये कोई नई बात नहीं है। सरकार ने पठानकोट आतंकी हमले और उड़ी आतंकी हमले के बाद कोशिशें जो की हैं, उसके चलते दुनिया में ये सोच बनी कि भारत की नीति सही है। इसे समर्थन मिला कि अंतरराष्ट्रीय आतंकवाद और सीमापार चलाया जा रहा आतंकवाद इस इलाके की शांति के लिए बड़ा खतरा है।”
अपनी सरकार के सामने बात रखेंगे बासित
– बागले ने कहा, “हाल के दिनों में जब भी हमारे नेताओं और दूसरे मुल्कों के लीडर्स की मुलाकात हुई, उसमें एक ही बात कही गई कि क्रॉस बॉर्डर टेररिज्म को खत्म किया जाना चाहिए। दुनिया का नजरिया हमारे समर्थन में और आतंकवाद के खिलाफ है। दुर्भाग्य की बात ये है कि जो आतंकवाद थोप रहे हैं, उनकी गतिविधियों में परिवर्तन आया या नहीं। हमने PAK हाई कमिश्नर से उम्मीद जताई कि हमारी भावनाओं से वो पाकिस्तानी सरकार को रूबरू करवाएंगे। हालांकि, उन्होंने इस घटना में पाकिस्तानी सेना के होने से इनकार किया है।”
DGMO ने कहा था- ये इनह्यूमन एक्ट
– भारतीय जवानों के शवों के साथ हुई बर्बरता को लेकर मंगलवार सुबह साढ़े 11 बजे DGMO लेफ्टिनेंट जनरल एके भट्ट ने पाकिस्तानी डीजीएमओ से बात की और इस घटना पर चिंता जताई। लेफ्टिनेंट जनरल भट्ट ने कहा कि इस तरह का इनह्यूमन (अमानवीय) एक्ट नाकाबिले बर्दाश्त है। भट्ट ने यह भी कहा कि पेट्रोलिंग पार्टी पर हमले को पाकिस्तानी पोस्ट से फायरिंग कर सपोर्ट किया गया। भारत ने एलओसी के पास पाक के BAT ट्रेनिंग कैम्प का मुद्दा भी उठाया।
हमें एक के बदले 50 सिर चाहिए: शहीद की बेटी
– पाकिस्तानी हमले में यूपी के देवरिया के रहने वाले बीएसएफ के हेड कॉन्स्टेबल प्रेम सागर भी शहीद हुए हैं। उनकी बेटी सरोज ने मंगलवार को कहा, “हमें एक के बदले 50 सिर चाहिए।” उधर, 2013 में एलओसी पर शहीद हुए लांसनायक हेमराज की मां ने कहा, “सरकार ने वादा किया था कि अगर वो एक सिर काटेंगे तो हम बदले में 10 सिर काटेंगे, लेकिन अब तक ऐसा नहीं हुआ।”
जवानों के सिर काटने वालों में मुजाहिदीन भी थे: BSF
– बीएसएफ की वेस्टर्न कमांड के ADG बीएन चौबे ने मंगलवार को बताया, “हमारे जवानों पर हमला करने वाली पाकिस्तानी टीम में मुजाहिदीन भी शामिल थे।” इस घटना से देशभर में गुस्से का माहौल है। लोगों ने दिल्ली, जम्मू-कश्मीर, यूपी, पंजाब समेत कई राज्यों में पाकिस्तान और नवाज शरीफ के खिलाफ नारेबाजी की।
पाक बॉर्डर एक्शन टीम जिम्मेदार
– पाकिस्तानी आर्मी ने सोमवार को LoC पार की। पुंछ में भारतीय इलाके में 250 मीटर अंदर तक घुसी पाक बॉर्डर एक्शन टीम (BAT) ने आर्मी-बीएसएफ की पेट्रोलिंग पार्टी पर हमला कर दिया। इसके बाद हमले में शहीद 2 भारतीय जवानों के सिर काट लिए। बता दें कि पहले भी भारतीय सैनिकों के शवों के साथ बर्बरता हुई है और हर बार इसके लिए (BAT) को जिम्मेदार ठहराया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here