दिल्ली में गैस लीक से 319 स्टूडेंट-टीचर्स बीमार, चीन से आया था कंटेनर

0
652

 

नई दिल्ली.तुगलकाबाद इलाके में एक कंटेनर डिपो से गैस लीक होने से स्कूली बच्चों तबीयत बिगड़ गई। रानी झांसी सर्वोदय कन्या विद्यालय की वाइस प्रिंसिपल ने बताया कि बच्चे आंखों और गले में जलन की शिकायत करने लगे। साउथ-ईस्ट दिल्ली के डीसीपी रोमिल बानिया ने कहा, “200 बच्चे और 9 टीचर्स हॉस्पिटल में भर्ती हैं। किसी की भी हालत सीरियस नहीं है। कंटेनर चीन से इंपोर्ट हुआ था। पुलिस ने लापरवाही का केस दर्ज कर लिया।” न्यूज एजेंसी के मुताबिक, अब तक 310 बच्चों का इलाज हो चुका है। घटना के बाद तुरंत मौके पर पुलिस और दमकल की गाड़ियां पहुंच गईं थीं। कंटेनर डिपो स्कूल के पास ही है। दिल्ली सरकार ने जांच के आदेश दिए हैं।
– न्यूज चैनल पर पेरेंट्स ने कहा कि जब वो स्कूल में पहुंचे तो कई बच्चे बेहोश थे। कई बच्चे आंखों में जलन की शिकायत कर रहे थे।
– पेरेंट्स का कहना था कि ज्यादातर बच्चों ने आंखों में जलन की शिकायत की। इसके बाद तुरंत पीसीआर या एंबुलेंस से उन्हें हॉस्पिटल में एडमिट किया गया।
– एक अन्य पेरेंट ने कहा कि सुबह 7.30 बजे के करीब बच्चों की हालत बिगड़ने लगी।
बच्चों की हालत खतरे से बाहर- रिपोर्ट्स
– वाइस प्रिंसिपल रेणु रामपाल ने कहा कि जैसे ही बच्चों ने आंखों में जलन की शिकायत की, उन्हें तुरंत स्कूल के ग्राउंड में लाया गया। इसके बाद पुलिस और एम्बुलेंस की मदद से उन्हें तुरंत 3 हॉस्पिटल्स में भर्ती कराया गया।
– मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, बच्चों की हालत फिलहाल खतरे से बाहर बताई जा रही है। लेकिन बच्चों को अभी भी जांच के लिए हॉस्पिटल में रखा गया है।
– हेल्थ मिनिस्टर जेपी नड्डा ने कहा- केंद्र सरकार के अस्पतालों को निर्देश दे दिए गए हैं कि वह गैस लीक के सभी विक्टिम को हर तरह से मदद करे।
गैस लीक की जांच होगी- मनीष सिसोदिया
– मनीष सिसोदिया ने कहा, “तुगलकाबाद में एक कंटेनर डिपो से गैस का रिसाव हुआ था, पास के सरकारी स्कूल में बच्चों को काफी प्रॉब्लम हुई। स्टूडेंट्स ने आंखों में जलन की शिकायत की थी, उन्हें पास के 3 बड़े अस्पतालों में एडमिट करा दिया गया है। मेरी छात्राओं और डॉक्टरों से बात हुई है। सबकी हालत सामान्य है। कंटेनर डिपो से गैस लीक होने के मामले की जांच के लिए डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट को कहा है। स्कूल में एक एग्जाम होना था, लेकिन इस घटना के चलते उसे कैंसल कर दिया गया है।”
चीन से आया है खतरनाक केमिकल
– डीसीपी रोमिल बानिया ने कहा, “मौके पर पुलिस, NDRF, CATS और एम्बुलेंस पहुंच गई थीं। खतरनाक पदार्थ को ठीक तरह से संभाला नहीं गया। ये पूरी तरह से लापरवाही का मामला है।”
– ”डिपो के जिस कंटेनर से धुआं निकला, वो इंडस्ट्रियल यूज के लिए चीन से इंपोर्ट किया गया। पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.