मंत्री पद से हटाए जाने के बाद कपिल रविवार को करेंगे टैंकर घोटाले का खुलासा

0
118

                      कुमार विश्वास भी कपिल के समर्थन में

नई दिल्ली( SPK News Desk): एमसीडी चुनाव में हार के बाद आम आदमी पार्टी (AAP) घमासान खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है. मंत्री पद से हटाए जाने पर कपिल मिश्रा ने ‘आप’ के खिलाफ खुली जंग छेड़ दी है. कपिल ने कहा है कि वह पार्टी में रहकर ही भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई जारी रखूंगा. ये मेरी पार्टी है और साल 2004 से आंदोलन से जुड़ा रहा हूं. कपिल रविवार को सुबह 11 बजे टैंकर स्कैम से जुड़े नामों का खुलासा करेंगे.
कपिल ने कहा कि हो सकता है कि टैंकर स्कैम में बड़े नामों के खुलासे की बात के कारण उन्हें मंत्री पद से हटा दिया गया हो. कपिल ने कहा कि टैंकर स्कैम में केजरीवाल से जुड़े बड़े नामों का खुलासा करूंगा और हो सकता है कि इन्हीं नामों की वजह से ऐसा फैसला किया गया हो. कपिल ने साफ किया कि ये ऐसे बड़े नाम हैं कि जिनके पांव तले की जमीन खिसक जाएगी.
कपिल कहा कि वह रविवार को सुबह 11 बजे इन नामों का खुलासा करेंगे और भ्रष्टाचार के मुद्दे पर कोई समझौता नहीं करेंगे. कपिल ने साथ ही कहा कि मेरे बारे में मीडिया को फोन करके कहा जा रहा है कि मैं सीएम से मिला ही नहीं मिला हूं. तो सीएम हाउस के सीसीटीवी कैमरे की रिकॉर्डिंग को पब्लिक किया जाए.
इस्तीफे के बाद कपिल मिश्रा ने ट्वीट करते हुए लिखा कि मैं अकेला ऐसा मंत्री हूं, जिसके उपर कोई भ्रष्टाचार का आरोप नहीं है. कोई सीबीआई जांच नहीं है. मैंने किसी बेटी या रिश्तेदार को कोई पद नही दिया है. केवल शीला का भ्रस्टाचार खोला. ये मेरी पार्टी है. 2004 से आंदोलन से जुड़ा रहा हूं. कहीं नही जाएंगे. यहीं रहकर सफाई करेंगे. झाड़ू चलाएंगे. कूड़ा हटाएंगे.
मिश्रा को पार्टी से हटाए जाने के बाद मनीष सिसोदिया ने फैसले की जानकारी देते हुए कहा, ‘जल प्रबंधन का काम ठीक से नहीं हो रहा था. कपिल मिश्रा ने बहुत काम किया. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने उनकी जगह कैलाश गहलोत को लाने का फैसला किया है.’ केजरीवाल टीम के सूत्रों की मानें तो कपिल मिश्रा ने सीएम से कोई मुलाकात नहीं की और ना ही कोई फाइल और ना ही कोई नाम सीएम को बताया है.
कुमार के माने जाते हैं करीबी
केजरीवाल ने अपने मंत्रिमंडल में फेरबदल करते हुए कैबिनेट मंत्री कपिल मिश्रा की छुट्टी कर दी है. केजरीवाल कैबिनेट में राजेंद्र पाल गौतम और कैलाश गहलोत मंत्री के तौर पर शामिल किए जाएंगे. बताया जाता है कि कपिल कुमार विश्वास के करीबी माने जाते हैं. कपिल ने MCD चुनाव में पार्टी की हार के बाद विश्वास के उठाए सवालों पर समर्थन करते हुए कहा था कि पार्टी ईवीएम के कारण नहीं है.
कुमार ने किया ट्वीट
कपिल मिश्रा को दिल्ली कैबिनेट से बाहर का रास्ता दिखाए जाने के बाद कुमार विश्वास ने एक  ट्वीट किया है. इसे कपिल मिश्रा के समर्थन के रूप में देखा जा रहा है. कुमार विश्वास ने ट्वीट करके लिखा, ‘देश और कार्यकर्ताओं को भरोसा दिलाता हूं कि हम  भ्रष्टाचार के खिलाफ अंदर और बाहर आवाज उठाना जारी रखेंगे, परिणाम चाहे कुछ भी हो! भारतमाता की जय’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here