सुमो बोले- व्यवस्था को प्रभावित करने में माहिर हैं लालू

0
207

भाजपा नेता और बिहार के पूर्व उममुख्यमंत्री सुशील मोदी ने लालू यादव पर हमला करते हुए कहा कि लालू यादव व्यवस्था को प्रभावित करने में माहिर हैं। इनसे संबंधित मामलों में सीबीआइ की विशेष टीम गठित कर जांच कराई जाये। चारा घोटाले से जुड़े सभी लम्बित केश का 9 माह में निष्पादन हेतु सी0बी0आई0 को विशेष टीम गठित करना चाहिए और डायरेक्टर को स्वयं इसकी Monitoring करनी चाहिए। मीडिया से मुखातिब पूर्व उपमुख्यमंत्री ने सीबीआई के पूर्व निदेशक पर रंजीत सिन्हा पर लगाया लालू को बचाने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि लालू ने अत्यंत करीबी रंजीत सिन्हा को खूब किया उपकृत किया। उन्होंने सोनिया और मनमोहन पर दबाव बनाकर सिन्हा को बनवाया CBI का निदेशक बनवाया था। रेल मंत्री रहते हुए सिन्हा को आरपीएफ का डीजी और फिर बिहार भवन का ओएसडी बना दिया था।  उन्हें कई तरह के लाभ दिये थे। व्यवस्था को प्रभावित कर अवैध तरीके से संपत्ति अर्जित की है। सुमो ने कहा कि लालू प्रसाद ने पटना हाई कोर्ट में सी0बी0आई0 जाँच के निर्णय का विरोध करते हुए सुप्रीम कोर्ट तक गए थे। लालू प्रसाद के अत्यंत करीबी  रंजीत सिन्हा सी0बी0आई0 में डी0आई0जी0 थे जिन्हें लालू का पक्ष लेने पर जाँच से अलग कर दिया गया था। रंजीत सिन्हा को प्रसाद ने रेल मंत्री के नाते आर0पी0एफ0 का डी0जी0 बनाया और फिर बिहार भवन में ओ0एस0डी0 बनाकर रखा। रंजीत सिन्हा को सी0बी0आई0डायरेक्टर बनवाने में लालू प्रसाद ने अपने वीटो का इस्तेमाल किया था। झारखंड हाई कोर्ट में जब यह मामला चल रहा था उस समय रंजीत सिन्हा सी0बी0आई0 डायरेक्टर थे।सी0बी0आई0 ने झारखण्ड उच्च न्यायालय में रंजीत सिन्हा के प्रभाव में तथ्यों को ठीक से नहीं रखा गया और लालू प्रसाद को मदद की कोशिश की। रंजीत सिन्हा पर सुप्रीम कोर्ट ने अभियुक्तों से मिलने के आरोप में मुकदमा दर्ज करने का आदेश दिया है। सुमो ने मणिपुर हाइकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश राकेश रंजन प्रसाद को सुप्रीम कोर्ट का जज बनाने से पहले कोलेजियम से विचार करने की मांग की। उन्होंने कहा झारखंड हाइकोर्ट का जज रहते रंजन ने लालू की खूब मदद की थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here