विवादास्पद तांत्रिक चंद्रास्वामी का निधन

0
126

एक प्रधानमंत्री के करीबी दोस्त और एक प्रधानमंत्री की हत्या में कथित तौर पर संलिप्त विवादास्पद तांत्रिक चंद्रास्वामी की मंगलवार मौत हो गई। हाल में ब्रेन स्ट्रोक के बाद चंद्रास्वामी को दिल्ली के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उनके विभिन्न अंगों ने काम करना बंद कर दिया था। अस्पताल की ओर से जारी बयान के मुताबिक, चंद्रास्वामी की मंगलवार दोपहर करीब 3 बजे मौत हुई। चंद्रास्वामी का असली नाम नेमीचंद था। वह ज्योतिषी के तौर पर चर्चा में आए थे। तत्कालीन प्रधानमंत्री पीवी नरसिम्हा राव के शासन के दौरान उनके पास बेशुमार शक्तियां थीं। उन्हें राव का भरोसेमंद सहयोगी और सलाहकार माना जाता था।
कई विवादों में आया नामः
अक्सर विवादों में रहे चंद्रास्वामी का नाम पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी हत्याकांड की जांच में सामने आया। हत्याकांड पर अपनी रिपोर्ट में जैन आयोग ने मामले में उनकी संलिप्तता पर एक चैप्टर दिया था। तांत्रिक पर वित्तीय अनियमितता के भी आरोप लगे। 1996 में उन्हें लंदन स्थित एक कारोबारी से जालसाजी के आरोप में गिरफ्तार किया गया। वह विदेशी मुद्रा विनियमन कानून का उल्लंघन करने के आरोपों का सामना कर रहे थे। जैन समुदाय से ताल्लुक रखने वाले नेमिचंद बचपन में ही पिता के साथ हैदराबाद चले गए। वे इंदिरा गांधी के जमाने से ही दिल्ली के राजनीतिक गलियारों में अपनी पैठ जमाने में कामयाब रहे। चंद्रास्वामी का नाम कई विवादों में घिरा। नरसिम्हाराव सरकार में सामने आए कई घोटालों के तार चंद्रास्वामी तक भी पहुंचे। यहां तक कि चंद्रास्वामी को जेल भी जाना पड़ा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here