कश्मीर के कुछ हिस्सों में कर्फ्यू जैसे प्रतिबंधों के साथ स्थिति शांतिपूर्ण

0
300

घाटी के कुछ इलाकों में रहे कर्फ्यू जैसे हालात
हिजबुल मुजाहिदीन के कमांडर सबजार बट के मारे जाने के बाद विरोध प्रदर्शनों की आशंका के चलते अधिकारियों ने सोमवार को लगातार दूसरे दिन घाटी में कई जगहों पर कर्फ्यू जैसी पाबंदियां लगाईं और हालात शांतिपूर्ण रहे। इस बीच आतंकवादी के मारे जाने के खिलाफ अलगाववादियों द्वारा 2 दिन की हड़ताल के आह्वान के चलते दूसरे दिन भी कश्मीर में सामान्य जनजीवन प्रभावित रहा। एक पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि कश्मीर घाटी में हालात शांतिपूर्ण और नियंत्रण में हैं। दक्षिण कश्मीर के पुलवामा जिले के तहाब इलाके में सीआरपीएफ के एक शिविर पर पथराव की घटना की जानकारी सामने आई। प्रवक्ता के अनुसार उपद्रवियों ने शिविर पर पथराव किया लेकिन पुलिस और सुरक्षा बलों ने पूरी तरह संयम अपनाते हुए उन्हें खदेड़ दिया। इसमें कोई घायल नहीं हुआ। बीते शनिवार को सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में सबजार के मारे जाने के बाद कानून व्यवस्था बनाये रखने के लिए एहतियाती कदम के तौर पर कश्मीर के कुछ हिस्सों में कर्फ्यू जैसी पाबंदियां लगाईं। अधिकारियों ने कहा कि श्रीनगर के 7 थाना क्षेत्रों खायनार, नौहट्टा, सफाकदल, एम. आर. गंज, रैनावारी, क्रालखुद और मैसूमा में पाबंदियां लगाई गई हैं। दक्षिण कश्मीर में अनंतनाग और शोपियां जिलों में तथा पुलवामा कस्बे में और उत्तरी कश्मीर के सोपोर में भी इसी तरह की पाबंदियां लगाई गयी हैं। उन्होंने कहा कि मध्य कश्मीर के बड़गाम और गांदेरबल जिलों में दूसरे दिन भी धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू है। अधिकारियों ने कहा कि हिंसक प्रदर्शनों को फैलने से रोकने के लिए एहतियाती कदम के तौर पर इन इलाकों में लगातार दूसरे दिन पाबंदियां लागू हैं। पुलवामा जिले के त्राल इलाके में हुई मुठभेड़ में बट अपने साथी के साथ मारा गया था। मुठभेड़ के दौरान गोलीबारी में एक आम नागरिक भी मारा गया था। हुर्रियत कॉन्फ्रेंस के दोनों धड़ों के प्रमुखों सैयद अली शाह गिलानी और मीरवाइज उमर फारुक तथा जेकेएलएफ के प्रमुख यासीन मलिक ने मारे गए आतंकवादियों को श्रद्धांजलि देने के लिए गुरुवार को त्राल तक मार्च का आह्वान किया है। उन्हें मार्च निकालने से रोकने के लिए अधिकारियों ने रविवार को मलिक को यहां उनके घर से गिरफ्तार कर लिया और गिलानी तथा मीरवाइज को नजरबंदी में रखा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here