कपिल मिश्रा बोले-सिसोदिया ने मुझे पिटवाया

0
369

आप से बागी होकर बर्खास्त हुए दिल्ली सरकार के मंत्री कपिल मिश्रा ने जब से पार्टी के शीर्ष नेताओं पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगाए उसके बाद से वह लगातार निशाने पर हैं। ‘आप’ सरकार में दिल्ली के पर्यटन मंत्रालय का अहम जिम्मा संभालने वाले कपिल मिश्रा के आवास पर जाकर कभी ‘आप’ के समर्थक जाकर उनके ऊपर हाथ चला देते हैं तो कभी आप के अन्य नेता उनके ऊपर बयानों की बौछार कर देते हैं। लेकिन, बुधवार को दिल्ली विधानसभा के अंदर जो नज़ारा देखने को मिला वह अचंभित कर देनेवाला था। दिल्ली विधानसभा में बुधवार को लोगों ने हैरान कर देनेवाले नज़ारा देखा जहां आम आदमी पार्टी के नेताओं ने ‘आप’ से बागी हुए कपिल मिश्रा की सदन के अंदर ही पिटाई कर दी। यह हाथापाई इस कदर हुई कि भारतीय जनता पार्टी के विधायकों को आकर बीच-बचाव करना पड़ा। लेकिन, बात इतने पर ही नहीं रुकी। आखिरकार, विधानसभा अध्यक्ष ने मार्शल बुलाकर कपिल मिश्रा को बाहर करवा दिया।
पहली बार नहीं हुआ कपिल के साथ ऐसा
आम आदमी पार्टी सरकार के बर्खास्त मंत्री कपिल मिश्रा के साथ पहली बार इस तरह की हिंसा नहीं हुई है। इससे पहले, इस महीने की शुरूआत में भी ‘आप ‘के समर्थकों ने कपिल घर पर हमला कर दिया था। उस वक़्त वह भूख हड़ताल पर बैठे हुए थे।
विधानसभा के अंदर कपिल मिश्रा पर दो गुटों में भिड़ंत
दरअसल, वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) बिल को लेकर बुलाए गए विधानसभा सत्र में अचानक उस वक्त रूकावट आ गई जब ‘आप’ के विधायकों ने एकजुट होकर कपिल मिश्रा पर धावा बोल दिया और उनमें से एक ने उनका गला दबाने की कोशिश की। जिसके बाद विरोधी पार्टियों ने दखल देकर किसी तरह मिश्रा को बचाया। हालांकि, उनके बचाव में आए दूसरे गुट के बाद विवाद दो गुटों में होता दिखा।
मार्शल ने कपिल को किया बाहर
विधानसभा में चले भारी हंगामे के बीच कपिल मिश्रा को मार्शल ने बाहर निकाल दिया। उधर, इस घटनाक्रम के बाद कपिल मिश्रा ने कहा कि उन्हें आम आदमी पार्टी के नेताओं ने इसलिए मारा क्योंकि वह दिल्ली के मुख्यमंत्री और अन्य पार्टी नेताओं के खिलाफ भ्रष्टाचार को लेकर लगातार आवाज़ उठा रहे थे।
मेरी छाती पर मारा-कपिल मिश्रा
बौखलाए कपिल मिश्रा ने संवाददाताओं से कहा- ‘मुझे सदन के अंदर बोलने की इज़ाज़त नहीं दी जा रही थी। इसलिए मैने रामलीला मैदान में विशेष सत्र बुलाने की मांग की थी। जिसके बाद अचानक ‘आप’ के सदस्यों ने मुझ पर हमला कर दिया, मुझे मारा, मेरी छाती पर मारा और कुछ लोगों ने मेरे पीछे से भी वार किया।’ ‘आप’ से बागी हुए कपिल ने आरोप लगाया- ‘केजरीवाल विधानसभा के अंदर हंस रहे थे और मुझे मनीष सिसोदिया के इशारे में पीटा जा रहा था।’
आप के बड़े नेताओं पर कपिल ने लगाया है संगीन इल्जाम
दरअसल, कपिल मिश्रा ने आम आदमी पार्टी के शीर्ष नेताओं पर कई गंभीर आरोप लगाए हैं। उन्होंने यह दावा करते आरोप लगाया कि वह इस बात के प्रत्यक्षदर्शी है कि दिल्ली के मुख्यमंत्री ने अपने संबंधी के साढ़े सात करोड़ रूपये के संपत्ति विवाद के निपटारे के लिए पार्टी के सीनियर नेता सत्येन्द्र जैन से अरविंद केजरीवाल ने दो करोड़ रूपये लिए थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here