बेगूसराय में सीपीएम नेता की हत्या, वैशाली में मुखिया पौत्र को भूना

0
100

बेखौफ अपराधियों ने विभिन्न जिलों में दो व्यक्तियों की गोली मारकर हत्या कर दी है। पहली घटना बेगूसराय की है, जहां आज सुबह अपराधियों ने बछवाड़ा प्रखंड में सीपीएम नेता रामसागर पासवान की गोली मारकर हत्या कर दी वहीं दूसरी घटना वैशाली जिले की है जहां एक मुखिया पौत्र की गोली मारकर हत्या कर दी गई। मिली जानकारी के मुताबिक बेगूसराय के सीपीएम नेता को अपराधी घर से बुलाकर अपने साथ चाय की दुकान पर ले गए और वहीं उनपर ताबड़तोड़ गोली चला दी, जबतक कोई कुछ समझ पाता वे अचेत होकर गिर गए और वहीं उनकी मौत हो गई। गोली मारने के बाद अपराधी वहां से फरार हो गए।
वैशाली में मुखिया पौत्र की हत्या
बेखौफ अपराधियों ने वैशाली जिले के लालगंज थाने के रिखर पंचायत की मुखिया देवबचन देवी के पौत्र धनजय सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी है। घटना बीते बुधवार की देर रात की है। मिली जानकारी के मुताबिक धनंजय सिंह गांव में ही किराना दुकान चलाता था। बुधवार की रात उसके घर के बगल में शादी थी। वह देर रात तक इस आशा में दुकान खोले हुए था कि शादी में आये लोग उसकी दुकान से कुछ न कुछ खरीदेंगे। वह दुकान के बाहर ही चौकी पर बैठा था। इसी बीच किसी ने उसे गोली मार दी। शादी में बैंड बाजे के शोर में किसी ने गोली की आवाज नहीं सुनी। जब कुछ लोग दुकान की ओर से गुजरे तो उन्होंने घायल अवस्था मे छटपटाते देखा। लोग उसे आनन फानन में इलाज के लिए हाजीपुर लाने लगे लेकिन रास्ते में ही उसकी मौत हो गई।
रीगा के नरसामा में युवक की हत्या
सीतामढ़ी जिले के रीगा थाना क्षेत्र के नरसामा गांव रिश्तेदार के घर मांगलिक कार्यक्रम में भाग लेने आए शिवनाथ राय(36) की हत्या कर दी गई। घटना बुधवार देर रात की है। गुरुवार की सुबह सूचना मिलने पर पुलिस ने नरसामा गांव पहुंचकर रिश्तेदार लालबाबू राय के घर से उसका शव बरामद किया और पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेजा। मृतक शिवनाथ राय सीतामढ़ी के राजोपट्टी का रहने वाला था। सुबह में जैसे ही उसके हत्या की खबर राजोपट्टी मोहल्ले में पहुंची। लोगों ने शहर के कारगिल चौक को टायर जलाकर जाम कर दिया। करीब दो घंटे बाद डीएसपी सदर कुमार वीर धीरेंद्र ने मौके पर पहुंचकर समुचित कार्रवाई का आश्वासन देकर जाम समाप्त कराया। रीगा थानाध्यक्ष संजीत कुमार ने मृतक की हीरो साइन बाइक क्षतिग्रस्त हालत में कुसुमारी बसंतपट्टी पथ में सिहोरवा गांव के समीप से बरामद किया है। सिहोरवा एवं नरसामा में करीब सात किलोमीटर की दूरी है। डीएसपी सदर पुलिस बल के साथ नरसामा गांव में पहुंचकर मामले की छानबीन में जुटे हैं। हत्या क्यों और कैसे की गई, इसको लेकर पुलिस अभी स्पष्ट रूप से बताने की स्थिति में नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here