दो लाख या अधिक के कैश लेन-देन पर देना होगा जुर्माना, टैक्स विभाग ने दी चेतावनी

0
657


इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने एक बार फिर कैश के अधिक लेनदेन पर लगाम लगाने की कोशिश की है. उसने लोगों को दो लाख रुपए या उससे अधिक के नकद लेनदेन के खिलाफ चेताया है. विभाग ने कहा कि इस तरह के लेनदेन में जिस व्यक्ति को नकद राशि मिलेगी, उसे उतना ही जुर्माना भी देना होगा. विभाग ने लोगों से यह भी कहा है कि उन्हें यदि इस तरह के लेनदेन की जानकारी है तो वे इसका ब्योरा blackmoneyinfo@incometax.gov.in पर उसे भेज सकते हैं.
फाइनेंस एक्‍ट- 2017 में किया गया था प्रावधान
गौरतलब है कि सरकार ने फाइनेंस एक्‍ट- 2017 के तहत एक अप्रैल, 2017 से दो लाख रुपए या उससे अधिक के नकद लेनदेन पर रोक लगा रखी है. आयकर कानून में नई शामिल की गई धारा 269 एसटी इसकी इजाजत नहीं देती है. टैक्स डिपार्टमेंट ने प्रमुख अखबारों में प्रकाशित विज्ञापनों में कहा है कि धारा 269 एसटी के उल्‍लंधन पर जुर्माना देना होगा.
जेटली ने तीन लाख की सीमा का किया था प्रावधान
2017-18 के बजट में वित्त मंत्री अरुण जेटली ने तीन लाख रुपए से अधिक के नकद लेनदेन पर रोक लगाने का प्रस्ताव किया था. बाद में वित्त विधेयक में संशोधन कर इस सीमा को कम कर दो लाख रुपए कर दिया गया। वित्त विधेयक लोकसभा में मार्च में पारित हो गया था. इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने कहा है कि यह सीमा सरकार की किसी प्राप्ति, बैंकिंग कंपनी, डाकघर बचत बैंक या सहकारी बैंक पर लागू नहीं होगी.
कालेधन पर अंकुश लगाना है मकसद
एक निश्चित सीमा से अधिक के नकद लेनदेन पर प्रतिबंध का मकसद कालेधन पर अंकुश लगाना है. इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने पिछले साल नोटबंदी के बाद दिसंबर में यह ईमेल एड्रेस शुरू किया था, जिस पर दो लाख रुपये से अधिक के नकद लेनदेन की सूचना दी जा सकती है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here