भारत खिताब के दावेदार की तरह खेला : अफरीदी

0
61

चैंपियंस ट्रोफी में अपने पहले मैच में ही पाकिस्तान को भारत के हाथों हार झेलनी पड़ी। इससे निराश शाहिद अफरीदी ने भारत को बेहतरीन प्रदर्शन का श्रेय दिया। पूर्व पाक कप्तान ने कहा कि गत चैम्पियन टीम चैंपियंस ट्रोफी के पहले मैच में खिताब के प्रबल दावेदार की तरह खेली। अफरीदी ने कहा कि उनकी टीम के खराब प्रदर्शन ने मैच का सारा रोमांच छीन लिया। उन्होंने आईसीसी के लिये अपने कॉलम में लिखा, ‘भारत-पाक चैंपियंस ट्राफी मैच में कोई रोमांच नहीं था क्योंकि पाकिस्तान का प्रदर्शन बेहद निराशाजनक रहा। पाकिस्तानी समर्थक होने के नाते मुझे यह देखकर दुख हुआ, लेकिन भारत ने एक बार फिर अपना दबदबा साबित कर दिया।’ अफरीदी ने कहा, ‘भारत ने प्रबल दावेदार के रुप में खेलना शुरू किया और पूरा मैच उसी तरह से खेला। पाकिस्तान ने आसानी से घुटने टेक दिए।’ भारत ने पाकिस्तान को 124 रन से हराकर शानदार शुरुआत की। अफरीदी ने पाकिस्तानी कप्तान सरफराज अहमद की रणनीति को आड़े हाथों लेते हुए कहा ,’सरफराज ने टॉस जीता जो इस मौसम में काफी अहम था। बारिश की स्थिति में बाद में बल्लेबाजी करने वाली टीम को फायदा होता है, लेकिन रणनीति इतनी खराब थी और फील्डिंग बदतर कि टीम वह फायदा उठा नहीं सकी।’ अफरीदी ने कहा, ‘मोहम्मद आमिर ने पहला ओवर शानदार फेंका और मुझे लगा कि नई गेंद से उसे विकेट मिलेगी। मुझे हैरानी हुई कि सरफराज ने नई गेंद इमाद वसीम को सौंपी। मुझे यह रणनीति समझ में नहीं आई क्योंकि मैच यूएई में नहीं खेला जा रहा था। यदि वह भारत को हैरान करना चाहता था तो इमाद से 1-2 ओवर कराने के बाद तेज गेंदबाजों को गेंद सौंपनी चाहिए थी।’ उन्होंने कहा कि पाकिस्तान ने भारत के सलामी बल्लेबाजों रोहित शर्मा और शिखर धवन को क्रीज पर जमने का मौका दिया। उन्होंने कहा, ‘यदि रोहित और शिखर जैसे खिलाड़ियों को क्रीज पर जमने का मौका दे दिया जाए तो बाद में उन्हें रोकना कठिन होता है और पाकिस्तान ने यही किया।’ उन्होंने कहा,’विराट कोहली और युवराज सिंह ने हमारे थके हुए गेंदबाजी आक्रमण की धज्जियां उड़ाई और हार्दिक पांड्या ने आक्रामक पारी खेलकर बड़ा स्कोर दिया। पाकिस्तान की फील्डिंग बहुत खराब थी और हमने कई फालतू रन देने के अलावा कैच भी छोड़े।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here