चारा घोटाला के मामले में लालू प्रसाद की पटना सीबीआइ कोर्ट में पेशी

0
295

पटना । बिहार-झारखंड के चर्चित चारा घोटाला के एक मामले में मंगलवार को राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की पटना की सीबीआइ कोर्ट में पेशी हुई। भागलपुर कोषागार से जुड़े 47 लाख रुपये के इस घोटाले में तत्‍कालीन मुख्‍यमंत्री लालू प्रसाद यादव तथा डॉ. जगन्‍नाथ मिश्र सहित कुल 44 के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल किया गया था। चारा घोटाला के ही एक अन्‍य मामले में लालू की रांची कोर्ट में नौ जून को पेशी है।

जानकारी के अनुसार भागलपुर में पशुपालन विभाग द्वारा किए गए 47 लाख के घोटाले को लेकर सीबीआइ ने 1996 में मुकदमा दर्ज किया था। इसमें लालू व डॉ. जगन्‍नाथ मिश्र सहित कुल 44 आरोपियों के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल किया गया। आरोपियों में 15 की मौत हो चुकी है। कोर्ट ने आज शेष जीवित आरोपियों को बुलाया था। इसी सिलसिले में लालू प्रसाद आज कोर्ट पहुंचे थे।

कोर्ट में पूर्व मुख्‍यमंत्री डॉ. जगन्‍नाथ मिश्र भी पहुंचने वाले हैं। वहां उनके समर्थक पहले से मौजूद हैं। अन्‍य आरोपी भी एक-एक कर आ रहे हैं।

लालू के वकील बोले

इस मामले पर लालू प्रसाद के वकील प्रदीप तिवारी ने कहा कि यह घोटाला भागलपुर के पशुपालन विभाग के अधिकारियों ने किया था, जिसमें सीबीआइ ने लालू प्रसाद का नाम साजिशकर्ता के रूप में शामिल किया है। हालांकि, लालू के खिलाफ कोई सबूत नहीं है। किसी गवाह ने भी लालू का नाम नहीं लिया है।

रांची कोर्ट में पेशी नौ को

सीबीआइ की विशेष अदालत ने बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव को पशुपालन घोटाला मामले में नौ जून को पेश होने का आदेश दिया है। यह आदेश देवघर कोषागार से 95 लाख रुपये की अवैध निकासी के मामले में दिया गया है। विदित हो कि सुप्रीम कोर्ट के हालिया अादेश के आधार पर लालू प्रसाद यादव को चारा घोटाले से जुड़े अलग-अलग मामलों का सामना अलग-अलग करना पड़ रहा है। पूरा मामला 900 करोड़ रुपये के घोटाले का है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here