नीमच में गिरफ्तार राहुल गांधी ने बेल लेने से किया इनकार, शिवराज ने की शांति की अपील

0
92

मध्य प्रदेश में किसान गोलीकांड पर सियासी संग्राम लगातार बढ़ता जा रहा है। मंदसौर जाने की कोशिश करते हुए नीमच में गिरफ्तार किए गए कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने अब जमानत लेने से इनकार कर दिया है। सूत्रों के मुताबिक राहुल ने कहा है कि जब तक उन्हें पीड़ित किसानों के परिवारों से मिलने नहीं दिया जाता, तब तक वह जमानत नहीं लेंगे। उधर प्रदेश के मुखिया शिवराज सिंह चौहान ने विडियो संदेश जारी कर किसानों से शांति बहाल करने की अपील की है। इस बीच एमपी के शाजापुर में आगजनी और पथराव की घटनाओं में एसडीएम घायल हो गए हैं। नीमच के रास्ते मोटरसाइकल से मंदसौर जा रहे राहुल गांधी को गिरफ्तार कर नीमच के गेस्ट हाउस ले जाया गया, लेकिन उन्होंने जमानत लेने से इनकार कर दिया है। 5 किसानों की मौत के लिए प्रधानमंत्री मोदी और मुख्यमंत्री शिवराज को जिम्मेदार बताते हुए उन्होंने कहा, ‘मोदीजी किसानों का कर्ज नहीं माफ कर सकते,सही रेट और बोनस नहीं दे सकते, मुआवजा नहीं दे सकते- सिर्फ किसान को गोली दे सकते हैं। मोदी ने सिर्फ अमीरों का टैक्स माफ किया है।’ राहुल ने ट्वीट कर बताया है कि उन्होंने पीड़ित परिवारों से फोन पर बात कर उन्हें सांत्वना दी है। उन्होंने कहा कि वह उनसे मिलने आए हैं और उनकी आवाज को उठाने से उन्हें कोई नहीं रोक सकता। राहुल के साथ मौजूद कांग्रेस नेता सचिन पायलट का कहना है कि पीड़ित परिवार भी राहुल से मिलना चाहते हैं। उन्होंने कहा, ‘पीड़ित किसानों के परिवार हमसे सिर्फ एक किलोमीटर दूर हैं, वे हमसे मिलना चाहते हैं लेकिन पुलिस उन्हें रोक रही है। हम यहां सिर्फ किसानों के प्रति एकजुटता जताने और शांति की अपील करने आए हैं, लेकिन पुलिस बल प्रयोग करने में लगी है।’ इस बीच मुख्यंत्री शिवराज सिंह चौहान ने एक विडियो जारी कर किसानों से शांति की अपील की है। उन्होंने अपनी सरकार को किसानों की सरकार बताते हुए कहा है कि सरकार ने किसानों के हित में कई फैसले किए हैं। शिवराज ने बताया है कि सरकार ने उज्जैन, इंदौर और मंदसौर के बाद शाजापुर में भी 8 रुपये प्रति किलो की दर से किसानों से प्याज खरीदी शुरू कर दी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here