त्राल: आतंकी हमले में 2 जवान जख्मी, उड़ी में सेना का तलाशी अभियान जारी

0
872

श्रीनगर । दक्षिण कश्मीर के त्राल (पुलवामा) में सोमवार को आतंकियों के हमले में सीआरपीएफ के दो जवान जख्मी हो गए। बीते चौबीस घंटों के दौरान वादी में सुरक्षाबलों पर यह दूसरा हमला है। वहीं उत्तरी कश्मीर में नियंत्रण रेखा के साथ सटे उड़ी सेक्टर में घुसपैठियों के खिलाफ सेना का तलाशी अभियान सातवें दिन भी जारी रहा।

त्राल में आतंकियों ने रात नौ बजे सीआरपीएफ की 180वीं वाहिनी के शिविर पर यूबीजीएल से दो ग्रेनेड दागे। शिविर के बाहरी हिस्से में गिरे ग्रेनेड के धमाके में दो जवान जख्मी हो गए। साथी जवानों ने तुरंत घायल जवानों को निकटवर्ती अस्पताल में पहुंचाने की व्यवस्था करते हुए पूरे इलाके की घेराबंदी कर तलाशी अभियान चलाया, जो देर रात तक जारी था। इससे पूर्व दोपहर को शोपियां जिले के तुरकवांगन गांव में सुरक्षाबलों के एक गश्तीदल पर शरारती तत्वों ने पथराव किया। सुरक्षाबलों ने भी हिंसक भीड़ को खदेड़ने के लिए बल प्रयोग किया।

इस बीच उत्तरी कश्मीर में उड़ी सेक्टर में एलओसी के साथ सटे गुहाल्टा व अन्य इलाकों में सेना ने आज लगातार सातवें दिन भी अपने तलाशी अभियान को जारी रखा। इसी क्षेत्र में गत मंगलवार को पाकिस्तानी सेना के बैट दस्ते को नाकाम बनाते हुए दो सैन्यकर्मी जख्मी हुए थे। इस घटना के बाद से सेना के जवानों ने पूरे इलाके में तलाशी अभियान शुरू किया था और इसी अभियान के तहत गत शुक्रवार को सेना के जवानों ने छह घुसपैठियों को मार गिराया था।

संबंधित अधिकारियों ने बताया कि पांच आतंकियों के शव बरामद किए गए हैं, जबकि एक घुसपैठिया का शव एलओसी पर पाकिस्तानी सेना की सीधी फायरिंग रेंज में होने के कारण बरामद नहीं किया जा सका। मुठभेड़ स्थल से सात पिट्ठु बैग मिले हैं, जो इस बात का संकेत करते हैं कि मारे गए आतंकियों के एक या दो साथी एलओसी पर ही कहीं जंगल में छिपे हैं। इसलिए उन्हें भी जिंदा अथवा मुर्दा पकड़ने के लिए तलाशी अभियान को जारी रखा गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.