राष्ट्रपति चुनाव : एनडीए नेताओं की सोनिया से मुलाकात और शत्रुघ्न सिन्हा के ट्वीट ने बढ़ायी राजनीतिक सरगर्मी

0
70

राष्ट्रपति पद के चुनाव के लिए सरगर्मी बढ़ती जा रही है. एनडीए और यूपीए ने उम्मीदवार के चयन के लिए कमेटी गठित की है. दोनों बड़ी पार्टियां राष्ट्रपति पद के लिए जरूरी जादुई आंकड़े को प्राप्त करने के लिए हर दावं आजमा रही हैं. इसी के मद्देनजर शुक्रवार को केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह और वेंकैया नायडु यूपीए की अध्यक्ष सोनिया गांधी से मिलने पहुंचे. हालांकि, मीटिंग ज्यादा देर तक नहीं चली सकी. उम्मीद है अब भाजपा के नेता सीपीएम के महासचिव सीताराम येचुरी से भी मिलेंगे. हालांकि, सीताराम येचुरी पहले ही लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी के नाम पर असहमति जता चुके हैं. भाजपा किसे उम्मीदवार तय करेगी, अपना पत्ता नहीं खोला है. सोनिया गांधी के साथ हुई बैठक के बाद गुलाम नबी आजाद ने भी ट्वीट कर बताया कि भाजपा के नेताओं ने नाम का खुलासा नहीं किया, बल्कि हमसे ही पूछते रहे कि किसे उम्मीदवार बनाया जायेगा.

शत्रुघ्न सिन्हा ने ट्वीट कर व्यक्त किये अपने उद्गार

इसी बीच, हाल ही में ट्वीट कर लालकृष्ण आडवाणी को ‘पितामह’ की संज्ञा देने वाले बिहार के भाजपा नेता शत्रुघ्न सिन्हा लगातार ट्वीट कर रहे हैं. उन्होंने ट्वीट कर कहा है कि मेरे विचार से राष्ट्रपति पद के लिए आडवाणीजी को उम्मीदवार बनाना चाहिए. मैं कुछ गंभीर और चिंतन करनेवाले नागरिकों की प्रतिक्रियाओं से काफी प्रभावित हूं. उन्होंने लिखा है कि ये देश सत्ता के शीर्ष पर बैठे किसी एक व्यक्ति या एक छोटे प्रभावशाली समूह की मर्जी पर नहीं चल सकता. राष्ट्रपति जैसे सर्वोच्च संवैधानिक पद पर किसी की योग्यता, अनुभव को पूरी तरह नजरंदाज कर उनकी मर्जी को थोपा नहीं किया जा सकता. ये देश किसी एक या समूह का नहीं, बल्कि 125 करोड़ जनता का है. शत्रुघ्न सिन्हा ने आगे लिखा है कि मेरे विचार से आडवाणी जी किसी भी पार्टी के सभी जरूरी मापदंडों से ऊपर हैं, जो किसी से भी प्रभावित नहीं होंगे. देश के सर्वोच्च संवैधानिक पद राष्ट्रपति के नॉमिनेशन के बारे में आखिर ये अजीब-सी चुप्पी क्यों है? क्या किसी व्यक्ति या पार्टी को माननीय आडवाणी जी की योग्यता, लंबे संसदीय और सार्वजनिक जीवन के अनुभव में कोई कमी दिखती है?

‘मेट्रोमैन’ श्रीधरन को उम्मीदवार बनायेगी एनडीए?

शनिवार को कोच्चि मेट्रो के उद्घाटन कार्यक्रम में ‘मेट्रो मैन’ के नाम से मशहूर ई श्रीधरन का नाम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ मंच साझा करनेवालों में शामिल नहीं था. इसके बावजूद प्रधानमंत्री कार्यालय ने प्रधानमंत्री के साथ मंच साझा करनेवालों में श्रीधरन का नाम किया है. पहले श्रीधरन को विशेष या वीआइपी अतिथि के तौर पर आमंत्रित नहीं किया गया था. अब वह 17 जून, शनिवार को कोच्चि मैट्रो के उद्घाटन के मौके पर प्रधानमंत्री के साथ मंच साझा करेंगे. प्रमुख समाचार पत्रों ने भी एनडीए के संभावित उम्मीदवार के रूप में श्रीधरन के नाम का उल्लेख किया है. हालांकि, यह भी माना जा रहा है कि गैर राजनीतिक व्यक्ति को एनडीए शायद ही उम्मीदवार बनाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here