टीवी पर घिसे-पिटे टॉपिक्स पर शो बनने बंद होने चाहिए: विशाल करवाल

0
1144

मुंबई: टेलीविजन अभिनेता विशाल करवाल का मानना है कि छोटे पर्दे पर दिखाई जाने वाली कहानियां पुरानी और घिसी-पिटी होती हैं और इसके जिम्मेदार कलाकार और निर्माता हैं, जिन्होंने इसे बर्बाद किया है.

विशाल ने बताया, “मैं इसे बहुत पुरानी मानता हूं. मेरा मानना है कि हम जैसे कलाकारों जिसमें मैं भी शामिल हूं… ने काफी हद तक टेलीविजन को बर्बाद किया है और दर्शक संख्या फिर से पाने में वक्त लगेगा. जब मैं छोटा था, तब टीवी और देखने लायक शोज जैसे ‘मालगुडी डेज’, ‘तारा’, ‘सांस’ या ‘बनेगी अपनी बात..’ देखा करता था, वे शोज आगे की ओर सोच रखने वाले होते थे.”

अभिनेता ने कहा कि घिसी-पिटी कहानियों पर शोज बनने बंद होने चाहिए, ताकि बेहतरीन कहानियां सामने आ सकें. उन्होंने कहा, “हम इसका इल्जाम दर्शकों पर मढ़ देते हैं कि वे ऐसे शोज देखना चाहते हैं, लेकिन बेहतर कहानी के साथ आने के लिए हमें इस प्रकार के शोज को बनाना बंद करना चाहिए.”

विशाल ने छोटे पर्दे पर ‘रोडीज’ और ‘स्पिलट्सविला’ जैसे रियलिटी शोज से आगाज किया. अपने करियर का श्रेय वह रियलिटी शोज को देते हैं.

उनका मानना है कि रियलिटी शोज लोगों का ध्यान आकर्षित करने में मददगार साबित होते हैं. उनका कहना है कि दोनों शो को कई सीजन आए हैं और करीब 500 से ज्यादा प्रतिभागी इसका हिस्सा रहे हैं, लेकिन उनमें से कुछ ही सक्रिय रूप से काम कर रहे हैं, निर्माता शुरुआत में आपकी मदद करते हैं, लेकिन बाद में अपनी प्रतिभा से खुद जगह बनानी होती है.

विशाल आगामी टीवी शो ‘परमावतार श्री कृष्ण’ में भगवान विष्णु के रूप में नजर आएंगे.

वह इससे पहले पौराणिक शो में भगवान कृष्ण का किरदार निभा चुके हैं. उन्होंने कहा कि काल्पनिक पात्र निभाना बेहद आसान है, क्योंकि वहां सुधार करने का मौका मिलता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here