IT ने जारी किया बेनामी संपत्ति का ब्यौरा, लालू को देना होगा 175 करोड़ का हिसाब

0
347

आयकर विभाग ने लालू यादव के परिवार की मुश्किलें बढ़ा दी हैं। विभाग ने मंगलवार को राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के प्रमुख लालू प्रसाद यादव के रिश्तेदारों की बेनामी संपत्तियों की सूची जारी कर दी है। राबड़ी देवी को भी विभाग ने समन भेजा है और 175 करोड़ की संपत्ति का पूरा ब्यौरा देने को कहा है। आयकर विभाग ने कुल 12 भूखंड लालू की बेटी मीसा भारती और उनके पति शैलेश कुमार, उपमुख्यमंत्री तेजसवी यादव और पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी और रागिनी और चंदा यादव की से जुड़ा है। मामला दिल्ली में एक फार्महाउस और न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी में एक बंगला भी जुड़ा हुआ है। कुल सम्बद्ध संपत्ति का बाजार मूल्य रुपए 175 करोड़ के बराबर है, जबकि संलग्न संपत्ति का मूल्य 9.32 करोड़ रुपये की है।
आई-टी विभाग ने पहले मीसा भारती, शैलेश कुमार और तेजस्वी यादव के बेनामी संपत्तियों को जब्त कर लिया था। फिर विभाग ने मीसा को दो समन भी जारी किए, लेकिन वो विभाग के मुख्यालय में उपस्थित नहीं हुईं। आई-टी विभाग ने मई में छापे डालकर संपत्तियों को जब्त कर लिया। 13 जून को आई-टी डिपार्टमेंट ने मीसा के पति शैलेश कुमार के खिलाफ भी बेनामी संपत्ति और टैक्स चोरी का मामला भी दर्ज किया था और उन्हें भी समन भेजकर मुख्यालय में उपस्थित होने को कहा था, लेकिन वो भी उपस्थित नहीं हुए। 7 जून को आई-टी डिपार्टमेंट ने मीसा और शैलेश पर दस-दस हजार रुपये का जुर्माना लगाया था। मीसा भारती के चार्टर्ड एकाउंटेंट (सीए) राकेश अग्रवाल की गिरफ्तारी के बाद धीरे-धीरे सभी बेनामी संपत्तियों का खुलासा हुआ, जिसमें 8,000 करोड़ रुपये का मनी लॉन्डरिंग रैकेट का भी पता चला, जिसमें दिल्ली के दो व्यापारियों और कुछ राजनीतिक संस्थाएं भी शामिल हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here