आयरलैंड और अफगानिस्तान को मिला टेस्ट दर्जा

0
313

लंदन
अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने गुरुवार को आयरलैंड और अफगानिस्तान को टेस्ट टीमों का दर्जा दे दिया है। ये दोनों टीमें अब आईसीसी की पूर्ण सदस्य बन गई हैं और अब ये क्रमश: 11वें और 12वीं टेस्ट टीमें होंगी।

आईसीसी ने यहां आयोजित फुल काउंलिस मीटिंग में सर्वसम्मति से यह फैसला लिया। आईसीसी की मेंम्बर कमिटि ने इन दो टीमों को पूर्ण टेस्ट टीम का दर्जा दिए जाने की वकालत की थी।

आयरलैंड और अफगानिस्तान की पुरुष टीम को पांच दिन का टेस्ट क्रिकेट खेलने का दर्जा दे दिया गया है। टेस्ट को खेल का सर्वोच्च प्रारूप है।

पिछली बार आईसीसी ने वर्ष 2000 में किसी टीम को टेस्ट टीम का दर्जा दिया गया था। तब बांग्लादेशी टीम को यह दर्जा दिया गया था। पर अब अफगानिस्तान और आयरलैंड को भी इस ग्रुप में शामिल कर लिया गया है। इसमें ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड जैसे संस्थापक सदस्यों के अलावा, साउथ अफ्रीका, न्यू जीलैंड, भारत, वेस्ट इंडीज, पाकिस्तान, श्री लंका और जिम्बाब्वे जैसी टीमें शामिल हैं। पहला टेस्ट मैच मेलबर्न में वर्ष 1877 में इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच ही खेला गया था। क्रिकेट आयरलैंड के चीफ वॉरेन ड्यूट्रॉम ने एक बयान जारी कर कहा, ‘आइरिश क्रिकेट में शामिल सभी लोगों के लिए यह बहुत अच्छी खबर है। मैं आईसीसी और सदस्यों को इस सकारात्मक पहल के लिए शुक्रिया अदा करना चाहता हूं। टेस्ट क्रिकेट खेल का सर्वोच्च प्रारूप है और हम इस दिशा में प्रयास कर रहे थे।’

इस बीच अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड के चीफ ऐग्जिक्यूटिव शफीक स्तानिजाई ने कहा, ‘अफगानिस्तान जैसे देश के लिए यह एक बहुत बड़ी कामयाबी है। पूरा देश इसका जश्न मना रहा है। अफगानिस्तान क्रिकेट लगातार मजबूत हो रहा है। टेस्ट दर्जा हासिल करना हमारा सपना था और आज यह पूरा हो गया।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here