राष्ट्रपति चुनाव : नामांकन भरने के बाद रामनाथ कोविंद बोले – जबसे राज्यपाल बना मेरा कोई दल नहीं

0
317

नई दिल्ली: राष्ट्रपति चुनाव के लिए एनडीए के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद ने नामांकन भर दिया है. इस दौरान उनके साथ पीएम मोदी, वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह भी मौजूद थे. एनडीए शासित राज्यों के मुख्यमंत्री भी साथ थे. रामनाथ कोविंद का राष्ट्रपति बनना तय माना जा रहा है. राष्ट्रपति चुनाव के लिए नामांकन भरने के बाद रामनाथ कोविंद ने कहा कि हमारे देश का संविधान सर्वोपरि है. मुझे समर्थन देने वाले सभी दलों का धन्यवाद. देश की सीमा की सुरक्षा करना हमारी जिम्मेदारी है. जबसे मैं राज्यपाल बना मेरा कोई दल नहीं है. मेरा मानना है कि राष्ट्रपति को दलगत राजनीति से ऊपर होना चाहिए.
एनडीए के साथ-साथ जेडीयू, टीआरएस, बीजेडी जैसे दलों ने उन्हें समर्थन का ऐलान किया है. ऐसे में रामनाथ कोविंद को 61 फीसदी से भी ज्यादा वोट मिलने की उम्मीद है, क्योंकि अकेले एनडीए का वोट प्रतिशत ही 48.6 फीसदी है. नामांकन के मौके पर समर्थन देने वाले तमिलनाडु के सीएम पलनीसामी, तेलंगाना के सीएम के चंद्रशेखर राव, आंध्र प्रदेश के सीएम चंद्रबाबू नायडू और ओडिशा के मंत्री सूर्य नारायण पात्रो भी मौजूद थे.
उधर, राष्ट्रपति चुनाव के लिए बीजेपी के दलित कार्ड के जवाब में कांग्रेस ने भी दलित कार्ड खेला है. एनडीए के राष्ट्रपति उम्मीदवार रामनाथ कोविंद के मुक़ाबले विपक्ष ने पूर्व लोकसभा स्पीकर मीरा कुमार को मैदान में उतारा है. गुरुवार को कांग्रेस की अगुवाई में 17 विपक्षी की दलों की बैठक में आम सहमति से मीरा कुमार के नाम पर मुहर लग गई. मीरा कुमार की उम्मीदवारी के बाद अब जेडीयू पर निगाहें टिकी हैं कि क्या बिहारी अस्मिता का ख्याल कर नीतीश पाला तो नहीं बदलेंगे, हालांकि जेडीयू की ओर से साफ संकेत है कि वो रामनाथ कोविंद को ही समर्थन देगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here