पीएम मोदी ने ‘मन की बात’ में मुबारकपुर कलां के लोगों को बोला शुक्रिया

0
769

बिजनौर जिले की चांदपुर विधानसभा में पड़ने वाले गांव मुबारकपुर कलां के लोगों को पीएम नरेंद्र मोदी ने शुक्रिया अदा किया। अपनी ‘मन की बात’ में उन्होंने इस गांव के लोगों की जीवटता को याद किया। पूरे गांव को बिना सरकारी मदद के अपने ड्रीम प्रॉजेक्ट स्वच्छ भारत के तहत खुले में शौच मुक्त (ओडीएफ) करने को पीएम ने ईद का तोहफा बताया। यह गांव ईद से एक दिन पहले पूरे देश में चर्चा में आ गया। दरअसल करीब 3500 की आबादी वाला गांव मुकारकपुर कलां में ज्यादातर मुस्लिम परिवार रहते हैं। इस गांव में शौचालय कम थे। खुले में शौच होता था। गांव की प्रधान किश्वर जहां ने अफसरों से मिलकर गांव को खुले में शौच मुक्त (ओडीएफ) करने की पेशकश की। अफसरों की रिपोर्ट के बाद शासन ने स्वछ भारत मिशन ग्रामीण के तहत गाँव में टॉइलेट्स बनवाने के लिए 17 लाख 56 हज़ार की धनराशि आवंटित कर दी। अफसरों ने पैसा आने की जानकारी गांव के लोगों को दी। लेकिन रमजान माह के पहले आई राशि को ग्राम प्रधान और गांव के लोगों ने लेने से इनकार दिया। उनका कहना था कि रमजान में हम अपने माल से सदका और जकात देने का काम करते हैं, लेने का नहीं। इसलिए हम इस पैसे से शौचालय नहीं बनवाएंगे। ग्रामीण अपने घरों में खुद के पैसे लगाकर शौचालय बनाकर गांव को ओडीएफ करेंगे। यह तय किया गया कि जिनके पास पैसा है वो पैसा खर्च करे और मजदूर फ्री में मजदूरी करें। मजदूर पैसे वाले के यहां काम करने पर मजदूरी नहीं लेगा और मजदूर के यहां बनने वाले शौचालय में पैसे वाला पैसा लगाएगा। इसी कोशिश से पूरा गांव ओडीएफ हो गया। ग्रामीणों ने अफसरों से कहा था कि शौचालय के लिए आया पैसा गांव के दूसरे विकास कार्यों में लगा दिया जाए और अलग से भी विकास के काम गांव में सरकार कराए जाएं। मुख्य विकास अधिकारी इंद्रमणि त्रिपाठी का कहना है कि ग्रामीणों ने एकजुट होकर बिना सरकारी मदद के हर घर में शौचालय का निर्माण कराया हैं। नौ जून को गांव में जाकर देखा तो गांव ओडीएफ हो चुका था। जिला पंचायत राज अधिकारी मुनीश कुमार का कहना है कि ग्रामीणों ने साहस दिखाया। हमने उनकी पूरी मदद की। गांव अब ओडीएफ हैं। डीएम जगतपाल त्रिपाठी का कहना है कि मुबारकपुर कलां गांव के लोग ने पूरे प्रदेश में ऐसा कर मिसाल कायम की हैं। यह सब जागरूकता अभियान से संभव हुआ है। दरअसल, पूरे गांव को खुद की कमाई और एक दूसरे की मदद से ओडीएफ कराने की जानकारी जैसे ही पीएमओ को हुई। पीएम नरेंद्र मोदी ने अपनी टीम गांव भेजी। जिला प्रशासन से रिपोर्ट मांगी। उनको देखने के बाद मोदी ने रविवार को ईद से एक दिन पहले अपने मन की बात में इस गांव की तरीफ की और ग्रामीणों के साहस को सराहा। ग्राम प्रधान किश्वर जहां का कहना है कि पीएम ने हमारी कोशिश को सराहा हम उनका शुक्रिया अदा करते हैं। उनका कहना है कि शौचालय के लिए आए पैसे से अब गांव में पक्का नाला बन रहा हैं। रास्ते को पक्का करने के लिए मिट्टी डाली जा रही हैं। अन्य काम भी जिला प्रशासन जल्द करने की बात कह रहा हैं। प्रधान का कहना है कि हमें गांव की तरक्की चाहिए, वो होने लगी हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here