नीतीश ने कहा, जीएसटी के लांचिंग समारोह में सभी दलों को लेना चाहिए भाग, तो लालू ने कहा, राजद करेगा विरोध

0
269

समस्तीपुर : राष्ट्रपति पद की उम्मीदवारी के बाद अब जीएसटी लांिचंग समारोह के मुद्दे पर भी महागठबंधन के दलों की अलग-अलग राय सामने आयी है. जीएसटी लांचिंग समारोह का कांग्रेस और राजद द्वारा बहिष्कार करने के एलान के बीच मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गुरुवार को कहा कि जीएसटी का सभी दलों को समर्थन करना चाहिए और लांचिंग समारोह में भाग लेना चाहिए. उन्होंने कहा कि उनका दल तो शुरू से ही जीएसटी का समर्थन करता रहा है़

अब तो यह संवैधानिक चीज है़ फिर इसका विरोध क्यों? उन्होंने कहा कि वे जीएसटी का समर्थन करते हैं और जीएसटी लांचिंग को लेकर संसद में शुक्रवार की रात आयोजित होनेवाली समारोह में हिस्सा लेंगे. मुख्यमंत्री ने दलसिंहसराय में आरएल महतो इंस्टीट्यूट ऑफ एजुकेशन का उद्घाटन करने के बाद पत्रकारों से कहा कि एक राष्ट्र, एक टैक्स की अवधारणा पर आधारित जीएसटी शुक्रवार की रात से लागू हो रहा है़ इस अवसर पर संसद के केंद्रीय हॉल में समारोह का आयोजन किया गया है, जिसमें सभी राज्यों के मुख्यमंत्री और वित्तमंत्री को भी आमंत्रित किया गया है़ उन्होंने कहा कि पहले तो जीएसटी का प्रस्ताव कांग्रेस के मनमोहन सिंह ने ही दिया था़ फिर इसका विरोध करने का क्या औचित्य है.

मालूम हो कि तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख सह पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने इसका विरोध करते हुए समारोह में भाग नहीं लेने का फैसला लिया है़ वहीं, भाकपा, कांग्रेस व राजद ने भी इसमें भाग नहीं लेने का एलान किया है़ ऐसे में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का यह बयान मायने रखता है़ राष्ट्रपति चुनाव में भी जदयू ने एनडीए प्रत्याशी रामनाथ कोविंद का समर्थन किया था, जिसको लेकर यूपीए के घटक कांग्रेस और राजद के नेता उन पर निशाना साध रहे हैं.

जीएसटी समारोह का राजद करेगा विरोध

पटना : राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद ने कहा कि राजद जीएसटी समारोह का िवरोध करेगा. उन्होंने कहा कि यूपीए द्वारा जीएसटी को पास किया गया. मोदी सरकार इसका दुरुपयोग कर रही है. एनडीए वाले इंडिया शाइनिंग का जश्न मना रहे हैं. अब ये लोग हुआं-हुआं करेंगे. ऐसे में राजद इस समारोह में शामिल नहीं होगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here