पटना प्रशासन को पहले से थी लालू आवास पर सीबीआइ छापे की जानकारी

0
69

सीबीआई ने शुक्रवार को आरजेडी चीफ लालू प्रसाद यादव के 12 ठिकानों पर छापा मारा है। पटना में लालू-राबड़ी के घर की भी पिछले तीन घंटे से तलाशी ली जा रही है। सीबीआई ने पूर्व रेलमंत्री लालू यादव, राबड़ी देवी, बेटे तेजस्वी और आईआरसीटीसी के पूर्व मैनेजिंग डायरेक्टर के खिलाफ केस दर्ज किया है। सीबीआइ अधिकारी तेजस्‍वी यादव से बंद कमरे में पूछताछ कर रहे हैं। बताया जा रहा है कि उनको गिरफ्तार भी किया जा सकता है। इसके मद्देनजर पटना का प्रशासनिकस अमला पूरी तरह सतर्क है। किसी भी तरह की आपात स्थिति से निपटने के लिए तैयार है। बताया जा रहा है कि पटना प्रशासन को पहले से लालू आवास पर सीबीआइ छापेमारी की जानकारी मिल चुकी थी। इसलिए प्रशासन पूरी तरह से चौकस था।
सीबीआई ने इन 8 के खिलाफ दर्ज किया केस
लालू प्रसाद यादव- तब के रेल मंत्री
राबड़ी देवी- पूर्व रेल मंत्री की पत्नी
तेजस्वी प्रसाद यादव- बिहार के डिप्टी सीएम
सरला गुप्ता- आरजेडी नेता प्रेमचंद गुप्ता की पत्नी
पीके गोयल- पूर्व आईआरसीटीसी मैनेजिंग डायरेक्टर
विजय कोचर- होटल चाणक्य की मालिकाना हक वाली कंपनी के डायरेक्टर
विनय कोचर- सुजाता होटल्स कंपनी के डायरेक्टर और विजय कोचर के भाई
मेसर्स लारा प्रोजेक्ट्स LLP- पटना में मॉल के लिए जमीन खरीदने वाली कंपनी
बता दें कि दो महीने पहले 100 अफसरों की इनकम टैक्‍स डिपार्टमेंट की टीम ने मई में बेनामी प्रॉपर्टी के शक में दिल्ली-एनसीआर में बड़ी कार्रवाई की थी। इस दौरान लालू यादव से जुड़े कारोबारियों के ठिकानों पर छापेमारी हुई थी। आईटी अफसरों ने बताया था कि दिल्ली-गुड़गांव और आसपास के इलाकों के 22 ठिकानों पर छापेमारी हुई। लालू यादव के करीबी रियल एस्टेट कारोबारियों के ठिकानों की तलाशी ली गई। इसमें आरजेडी सांसद प्रेमचंद गुप्ता भी शामिल हैं। लालू यादव पर बेनामी प्रॉपर्टी और टैक्स चोरी के आरोप लगे हैं। डिपार्टमेंट को शक है कि बेनामी प्रॉपर्टी 1000 करोड़ की हो सकती है। लालू से जुड़े कारोबारियों के यहां कार्रवाई की गई। रेड में पुलिस के साथ हमारे 100 अफसर शामिल थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here