रूद्राभिषेक के बाद अब तेजप्रताप के घर में गूंज रहा, हरे रामा-हरे कृष्णा

0
322

रूद्राभिषेक के बाद अब लालू यादव के ज्येष्ठ पुत्र और राज्य के स्वास्थ्यमंत्री तेजप्रताप यादव ने अपने आवास 3 दशहरा मार्ग में मंगलवार से चौबीसों घंटे चलने वाले अष्टयाम कीर्तन शुरू करवाया है। इससे पहले तेजप्रताप ने अपनी मां राबड़ी देवी के 10, सर्कुलर रोड स्थित आवास में सोमवार को रूद्राभिषेक करवाया था। यह कीर्तन भगवान विष्णु को प्रसन्न करने के लिए किया जा रहा है जो मंगलवार की सुबह चार बजे से शुरू हुआ है, जहां कीर्तन मंडलियों को बुलाया गया है जो अपने हारमोनियम और ढोलक के साथ पहुंचे हैं और चारों पहर हरे रामा-हरे कृष्णा गा रहे हैं। हरे रामा-हरे कृष्णा की गूंज से 3 दशहरा मार्ग स्थित तेजप्रताप का आवास गुंजायमान है। लालू परिवार आजकल कोर्ट के मामलों और सीबीआइ की छापेमारी के बाद संकट के दौर से गुजर रहा है एेसे में तेजप्रताप ने भगवान का सहारा लिया है और शांति के लिए अष्टयाम कीर्तन करा रहे हैं। तेजप्रताप के घर से मिली जानकारी के मुताबिक ज्योतिषियों ने तेजप्रताप को इन सब मुश्किलों से छुटकारा पाना है तो पूजा-पाठ जरूरी है। मिली जानकारी के मुताबिक तेजप्रताप के घर में बने बांस से बनी झोपड़ी में शुक्रवार से ही अष्टयाम कीर्तन शुरू है, जो बुधवार को खत्म होगा और उसमें शामिल होने वाली कीर्तन मंडली बक्सर और रोहतास से बुलाई गई है। बुधवार को कीर्तन खत्म होने के बाद भंडारा का भी आयोजन किया जाएगा। इससे पहले सोमवार को तेजप्रताप ने रूद्राभिषेक कराया था और उनके एक परिचित ने बताया है कि तेजस्वी भगवान शिव के परम भक्त हैं, वो रोज सुबह-शाम अपने आवास पर पूजा करते हैं, इसके अलावे वो सावन में पूरे माह शाकाहारी भोजन करते हैं। तेजस्वी ने आजकल अपनी कलाई में और गले मे भी रूद्राक्ष धारण कर रखा है, जो उन्हें किसी भी तरह की परेशानी से बचाएगा। इससे पहले तेजस्वी ने अपने आवास में बुरी छाया से खुद को अपने परिवार को बचाने के लिए दुश्मन मारण जाप भी कराया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here