तुर्की में आया 6.3 तीव्रता का भूकंप, 100 से अधिक लोग चपेट में

0
32

कोस: आपदा विभाग ने यूनानी द्वीप समूह में आए तेज भूकंप की तीव्रता 6.3 बताई हैं. शुक्रवार सुबह आए भीषण भूकंप में कई इमारतें और बंदरगाह क्षतिग्रस्त हो गए और करीब 100 से अधिक लोग घायल हो गए. अधिकारियों ने इस बारे में उक्त जानकारी दी. यूनानी अधिकारियों के अनुसार, भूकंप की तीव्रता 6.5 मापी गई है. शहर के अधिकारियों के अनुसार भूकंप अधिकेंद्र के सबसे नजदीक होने के कारण कोस द्वीप सबसे अधिक प्रभावित हुआ. यहां दो लोगों की मौत हो गई. कुछ पुराने भवन क्षतिग्रस्त हुए हैं. बड़े पैमाने पर इमारतों में दरारें आई हैं, खिड़कियां टूट गई हैं और दुकानें क्षतिग्रस्त हो गए हैं.

कोस के मेयर जॉर्जोस क्रिटिसिस ने यूनान की सरकारी मीडिया को कहा, ‘द्वीप के अन्य हिस्सों में कोई समस्या नहीं है. केवल मुख्य शहर ही इससे प्रभावित हुआ है. अधिकतर पुरानी इमारतें क्षतिग्रस्त हुई हैं, जिनका निर्माण भूकंपरोधी निर्माण नियम आने से पहले हुआ था.’ क्रिटिसिस ने बताया कि आधी रात को आये भूकंप के बाद बचावकर्मी मकानों में फंसे लोगों की तलाश कर रहे हैं. आपात सेवाओं के साथ सेना को भी मौके पर तैनात किया गया है.

तटरक्षक अधिकारी ने बताया कि द्वीप का बंदरगाह भी क्षतिग्रस्त हुआ है और नौकाओं को वहां खड़ा नहीं किया जा रहा. कोस के क्षेत्रीय सरकारी अधिकारी जॉर्जोस हलकिदोस ने बताया कि 100 से अधिक लोग घायल हुए हैं. उन्होंने कहा, ‘दो या तीन लोगों की हालत गंभीर है जिनकी सर्जरी की जा रही है.’ यूनानी अधिकारियों का कहना है कि भूकंप की तीव्रता 6.5 थी और इसका अधिकेन्द्र तुर्की के बोद्रुम से 10 किलोमीटर दक्षिण में, 10 किलोमीटर की गहराई में था.

तुर्की के आपदा विभाग के अधिकारियों के अनुसार, भूकंप की तीव्रता 6.3 थी. उसके बाद करीब और 20 झटके महसूस हुए हैं. तुर्की के अधिकारी के अनुसार, वहां किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है. ग्रीस और तुर्की में अक्सर भूंकप की घटनाएं होती रहती हैं. आपको बता दें कि लगभग इतनी ही तीव्रता का भूकम्प 25 अप्रैल 2015 को सुबह 11:56 पर नेपाल में आया था जिसके बाद नेपाल में बहुत विनाशकारी मंजर देखने में आया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here