कोलगेट सीईओ ने लिया पतंजलि का नाम, कहां उपभोक्ताओं की वरीयता के आधार पर बदलनी होगी रणनीति

0
334

नई दिल्ली । कोलगेट पामोलिव के ग्लोबल सीईओ इयान कुक ने एक एनालिस्ट कॉल में पहली बार अपनी प्रतिस्पर्धी कंपनी पतंजलि आयुर्वेद का नाम लिया है। उन्होंने कहा कि भारत में उपभोक्ताओं की तेजी से बदलती वरीयताओं के आधार पर हमें अपनी रणनीति बदलनी होगी। आपको बता दें कि कोलगेट टूथपेस्ट की बिक्री में बीते साल एक दशक की सबसे बड़ी गिरावट देखने को मिली है।

कुक ने अर्निंग कांफ्रेंस कॉल में कहा, “पतंजलि भारत में अपने व्यापार के बारे में एक बहुत ही राष्ट्रवादी दृष्टिकोण रखता है। स्थानीय बाजार में ऐसी अवधारणा है। वे प्रीमियम प्राइस पर फोकस रखते हैं। इसका मतलब यह हुआ कि आपको ऐसे ऑफर का मुकाबला करना है जिसे विशेष रूप से तैयार किया गया है और जो उस बेनेफिट पर अटैक करता है, जिसे पाने की उम्मीद कंज्यूमर कर रहा होता है।”

कंपनी ने यह बात ऐसे समय में स्वीकार की है जब बीते साल कोलगेट इंडिया का शेयर इंडियन टूथपेस्ट मार्केट में 1.8 फीसद गिरा है। बीते वित्त वर्ष के दौरान कंपनी की बिक्री 4 फीसद गिरी है, क्योंकि कंज्यूमर तेजी से आर्युवेदिक और हर्बल ब्रैंड की ओर बढ़ रहे हैं।

हालांकि क्रेडिट सुईस की रिपोर्ट के मुताबिक कोलगेट मार्केट शेयर में जितनी गिरावट बताई है असल गिरावट उससे दोगुना ज्यादा हो सकती है क्योंकि बाबा रामदेव के पतंजलि के मार्केट शेयर में हुई बढ़ोतरी को कम आंका जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here