बोले अमित शाह, अभी यूपी को सुधारने में समय लगेगा

0
46

लखनऊ. भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने अपने दौरे के तीसरे दिन लखनऊ में प्रेस कांफ्रेंस की। इस मौके पर उन्होंने भाजपा सरकार की उपलब्धियां बताई तो दूसरी ओर उत्तर प्रदेश की समाजवादी पार्टी के दौरान हुए कामकाज पर हमला बोला। अमित शाह ने कहा कि कालेधन पर सरकार ने कड़े कदम उठाये हैं। कालेधन के खिलाफ सरकार ने एस आई टी का गठन किया है। राजनैतिक दलों का चन्दा 20000 से घटाकर 2000 किया। बेनामी संपत्ति पर कानून बनाया। जीएसटी से एक कर – एक देश के सूत्र में देश बंधा है। शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने भारत का दुनिया मे सम्मान बढ़ाया है। प्रधानमंत्री सबसे ज्यादा लोकप्रिय नेता बनकर उभरे हैं, 2019 मे इससे भी बड़े बहुमत से सरकार बनाएंगे।
अमित शाह ने कहा कि सरकार ने गरीबों के घरों में शौचालय बनाने का काम किया। तेरह हज़ार गाँव में बिजली देने का काम पूरा किया। वर्ष 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करेंगे। शाह ने कहा कि करीब 90 प्रतिशत गन्ने का भुगतान किया गया। अमृत मिशन, नमामि गंगे और मेट्रो परियोजना की सहायता राशि बढ़ाई गई। आपदा सहायता राशि भी केंद्र सरकार ने बढ़ाई। शाह ने कहा कि केंद्र सरकार उत्तर प्रदेश के साथ खड़ी है। यूपी की अनुदान सहायता राशि बढ़ाई गई है। स्मार्ट सिटी समेत कई योजनाओं की सहायता राशि बढ़ाई गई है। स्थानीय निकाय के धन में 88 गुना की वृद्धि की गई है।
शाह ने अखिलेश यादव पर हमला बोलते हुए कहा कि अखिलेश जैसे काम हम नहीं करना चाहते। एक्सप्रेस वे पर कोई गाडी नहीं चल पा रही है। यूपी को सुधारने में अभी समय लगेगा। शिवपाल के बारे में पूछे गए सवाल पर शाह ने कहा कि शिवपाल यादव के नाम का कोई प्रस्ताव नहीं है। शिवपाल के नाम पर कोई विचार नहीं हो रहा। केशव प्रसाद मौर्य के केंद्र में जाने की अटकलों को शाह ने खारिज करते हुए कहा कि नया प्रदेश अध्यक्ष बनते ही वे सरकार चलाने में पूरा समय देंगे। राम मंदिर के सवाल पर शाह ने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण कानूनी तरीके से या संवाद से होगा। शाह ने यूपी सरकार के कामकाज पर संतोष जताया। बिहार में नीतीश-लालू के गठबंधन टूटने के सवाल पर शाह ने कहा कि इसमें भाजपा की कोई भूमिका नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here