अब लाइन पर आया चीनी मीडिया, जमकर की भारत की तारीफ, अपनी कंपनियों को दी ये चेतावनी

0
388

नई दिल्ली। भारत और चीन के बीच डोकलाम विवाद को लेकर जिस चीनी मीडिया ने भारत के खिलाफ एक मुहिम सी छेड़ दी थी, अब उसके रुख में नरमी देखने को मिली है। चीनी अखबार ग्लोबल टाइम्स में छपे एक आर्टिकल में भारत की अर्थव्यवस्था और भारत में बिजनेस के लिहाज से परिस्थितियों की खूब तारीफ की है। आर्टिकल में चीनी कंपनियों को सलाह भी दी गई है कि भारत को एक पिछड़े देश की तरह देखना बंद करें।चीनी लोगों में भारत की तस्वीर गलत आर्टिकल में आगे लिखा है- चीन के लोगों को भारत के बारे में जानकारी सिर्फ मीडिया से मिलती है, जो लोगों में पूरी तरह से सही समझ नहीं बना पाती। चीनी लोगों को लगता है कि भारत एक बहुत बड़ी आबादी वाला गरीब देश है, जहां पर बार-बार बिजली कटती है और इंडस्ट्रियल बेस काफी कमजोर है। आर्टिकल में यह साफ किया गया है कि भारत की ये तस्वीर सिर्फ आंशिक रूप से सही है, वास्तविकता कुछ और ही है। भारतीय अमीरों की बात भारतीय अमीरों की बात आर्टिकल में कहा गया है कि चीन के लोग भारत में जितने अमीर लोग मानते हैं, उनकी संख्या उनकी सोच से कहीं ज्यादा है। 2017 में प्रकाशित दुनिया की सबसे अमीर लोगों की हुरुन रिपोर्ट का भी इस आर्टिकल में हवाला दिया गया है। आर्टिकल में कहा गया है कि उस लिस्ट के अनुसार भारत में 100 अरबपति हैं, जो सुपररिच मामले में किसी देश से दुनिया की चौथी सबसे बड़ी संख्या है। भारत सरकार पर साधा निशाना भारत सरकार पर साधा निशाना भारतीय अर्थव्यवस्था का तारीफ करने के बावजूद चीनी मीडिया ने भारत सरकार पर तगड़ा हमला किया है। आर्टिकल में लिखा गया है कि चीनी सरकार के मुकाबले भारत की संघीय सरकार फैसले लेने में काफी सुस्त है। हालांकि, यह भी लिखा है कि भारत का डेवलपमेंट मॉडल उद्यम और इनोवेशन को प्रोत्साहन देता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here