शिक्षिका की प्रताड़ना से तंग होकर, स्कूल की छत से कूद गयी छात्रा

0
529

खगौल : गुरुवार को 12वीं की छात्रा ने स्कूल की छत से कूद कर आत्महत्या प्रयास किया. छात्रा को गंभीर अवस्था में सगुना मोड़ स्थित निजी अस्पताल में भरती कराया गया. बाद में परिजन उसे पाटलिपुत्रा कॉलोनी स्थित रुबन हॉस्पिटल ले गये, जहां आइसीयू में उसका इलाज हो रहा है.

जानकारी के अनुसार कॉमर्स की टीचर ने पढ़ाई करने के लिए कहा, जिससे नाराज छात्रा ने स्कूल की छत से छलांग लगा दी. वहीं छात्रा के पिता ने आरोप लगाया है कि उनकी पुत्री ने स्कूल की शिक्षिका की प्रताड़ना से तंग आकर आत्महत्या का प्रयास किया है.

बताया जाता है कि इस्ट बोरिंग रोड स्थित गोरखनाथ कंपाउंड निवासी निर्मल सिंह की पुत्री नलिनी सिंह खगौल कैंट रोड स्थित डीएवी स्कूल में बारहवीं की छात्रा है. उसने स्कूल की पहली मंजिल की छत से कूद कर खुदकुशी करने का प्रयास किया. हादसे के बाद स्कूल द्वारा उसे गंभीर अवस्था में निजी अस्पताल में भरती कराया गया था.

छानबीन के बाद होगी कार्रवाई : थानाध्यक्ष

घटना के संबंध में थानाध्यक्ष संजय पांडेय ने बताया छात्रा के पिता ने लिखित शिकायत दी है. शिकायत में छात्रा को मानसिक रूप से प्रताड़ित करने का आरोप लगाया गया है. मामले की छानबीन की जा रही है. दोषी लोगों के विरुद्ध विधिसम्मत कार्रवाई की जायेगी.

मानसिक रूप से प्रताड़ित किया गया

स्कूल की शिक्षिका द्वारा द्वितीय पाली के बाद मेरी पुत्री को मानसिक रूप से प्रताड़ित किया गया. इससे उनकी पुत्री आहत हो गयी. वह अपने अपमान को बरदाश्त नहीं कर पायी और उसने स्कूल की छत से कूद कर आत्महत्या करने की कोशिश की.

निर्मल कुमार सिंह, छात्रा के पिता

पुलिस को शिकायत, परिजनों ने स्कूल प्रशासन व शिक्षिका को बताया जिम्मेवार

प्राचार्य आर राय ने बताया कि छात्रा पानी पीने के लिए क्लास से बाहर गयी और छत से छलांग लगा दी. टीचर द्वारा पढ़ाई करने के लिए बोला गया था. अब तक छात्रा की हालात गंभीर बनी हुई है. इस संबंध में छात्रा के पिता निर्मल कुमार सिंह ने स्कूल की शिक्षिका के विरुद्ध खगौल थाने में अपनी पुत्री को प्रताड़ित करने की लिखित शिकायत की है.

उन्होंने पुलिस को दिये आवेदन में कहा कि स्कूल की शिक्षिका द्वारा द्वितीय पाली के बाद मेरी पुत्री को मानसिक रूप से प्रताड़ित किया गया. इससे भी शिक्षिका का मन नहीं भरा, तो मेरी बेटी के लिए भद्दी-भद्दी गालियां व अश्लील शब्दों का प्रयोग किया. यह सुन कर उनकी पुत्री आहत हो गयी. वह अपने अपमान को बरदाश्त नहीं कर पायी. अपने को असहज महसूस करते हुए हुए उसने स्कूल की छत से कूद कर आत्महत्या करने की कोशिश की. उन्होंने इस घटना के लिए पूरी तरह से स्कूल प्रशासन व शिक्षिका को जिम्मेवार ठहराया.

पानी पीने के बहाने बाहर गयी थी : प्राचार्य

छात्रा पानी पीने के लिए क्लास से बाहर गयी और छत से छलांग लगा दी. टीचर द्वारा उसे पढ़ाई करने के लिए बोला गया था.
आर राय, प्राचार्य, डीएवी स्कूल
खगौल कैंट रोड

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.