PM के गुस्से से सांसदों का छूटा पसीना, पूछा- बार बार कहने पर भी क्यों नहीं सुधरते

0
67

नई दिल्‍ली (जेएनएन)। संसद में गुरुवार को भाजपा संसदीय पार्टी की बैठक हुई। इसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह शामिल हुए। बैठक को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संबोधित किया। पीएम ने तीखे शब्‍दों में संसद सेे गैरहाजिर रहने वाले सांसदों की क्‍लास लगाई।

अपने आपको क्‍या समझते हैं

एक टीवी चैनल के अनुसार, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सदन में सांसदों की उपस्थिति के मुद्दे को उठाते हुए कहा कि सदन में सांसदों को उपस्थित रहना चाहिए। उन्होंने आगे कहा कि अब अध्यक्ष राज्यसभा में आ गए हैं, आपके मौज-मस्ती के दिन बंद हो जाएंगे। नाराजगी जाहिर करते हुए पीएम ने कहा, अटेंडेंस के लिए क्यों कहा जाए। उन्‍होंने कहा, ‘आपलोग अपने आपको क्‍या समझते हैं, आप और मैं कुछ नहीं हैं, जो है वह बीजेपी है पार्टी है। बार-बार व्‍िहप क्‍यों देना पड़ता है, आपलोगों को जो करना है करिए मैं 2019 में देखूंगा।’

अक्‍सर नदारद होते हैं रेखा, सचिन

इसके पहले उपराष्ट्रपति चुनाव में भी 14 सांसद अनुपस्थित थे। इसमें भाजपा के दो सांसद, कांग्रेस के दो सांसद, आइयूएमएल के दो सांसद, टीएमसी के चार सांसद, एनसीपी व पीएमके के एक-एक सांसद व दो निर्दलीय सांसद थे। गत 4 अगस्‍त को राज्‍यसभा के मानसून सत्र में सपा सांसद नरेश अग्रवाल ने कहा कि क्रिकेटर सचिन और अभिनेत्री रेखा का नाम लेते हुए कहा कि ये दोनों अक्‍सर सदन से अनुपस्थित रहते हैं।

शाह ने दिए कोर्ट जाने के संकेत

दूसरी ओर पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने सुप्रीम कोर्ट जाने का संकेत देते हुए कहा कि कोई अगर कोर्ट चला जाए तो। इससे स्‍पष्‍ट होता है कि अहमद पटेल वाले मामले में कोर्ट जाने की बात कही गयी। बता दें कि गुजरात में तीन राज्यसभा उम्मीदवारों का चुनाव था, जिसमें दो सीटों पर भाजपा को जीत मिली है। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी को राज्यसभा में जगह मिली है। जबकि कांग्रेस नेता अहमद पटेल को जीत मिली।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here