सृजन घोटाले में छापेमारी: कई बैंकों के पासबुक समेत घोटाले से संबंधित दस्तावेज बरामद

0
358

भागलपुर के बहुचर्चित सृजन घोटाले की धमक अब राजधानी पटना तक पहुंच चुकी है। आर्थिक अपराध इकाई (ईओयू) की टीम ने पटना के बोङ्क्षरग रोड स्थित भागलपुर के जिला कल्याण पदाधिकारी (डीडब्लूओ) अरुण कुमार के फ्लैट पर छापेमारी कर इस घोटाले से जुड़े कई अहम दस्तावेज बरामद किए हैं।

इस छापेमारी में ईओयू ने अरुण कुमार के फ्लैट से साढ़े चार लाख रुपये की नकदी, करीब एक दर्जन बैंकों के पासबुक और घोटाले से जुड़े कई दस्तावेज बरामद किए हैं। छापेमारी के समय अरुण कुमार भी ईओयू की टीम के साथ थे।

ईओयू के आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि बोङ्क्षरग रोड के नॉर्थ श्रीकृष्णा पुरी स्थित महादेव कुंज अपार्टमेंट के फ्लैट संख्या-205 में मंगलवार को छापेमारी की गई। हालांकि ईओयू की टीम ने इस फ्लैट पर सोमवार को भी धावा बोला था, लेकिन फ्लैट के मुख्यद्वार पर ताला लटका होने के कारण ईओयू की टीम को वापस लौटना पड़ा था।

फ्लैट में ताला लटका होने के कारण ईओयू ने भागलपुर में गिरफ्तार किए गए अरुण कुमार को अपने साथ लेकर मंगलवार को पटना आई थी और उसके मौजूदगी में फ्लैट के चप्पे-चप्पे की तलाशी ली। इस तलाशी में अरुण कुमार के फ्लैट से ईओयू की टीम को लाखों की नकदी, विभिन्न बैंकों के दर्जनभर पासबुक और जमीन-जायदाद से संबंधित कई महत्वपूर्ण दस्तावेज मिले हैं। फ्लैट की तलाशी के बाद ईओयू की टीम मंगलवार को ही अरुण कुमार को लेकर वापस भागलपुर लौट गई।

बता दें कि इससे पहले सोमवार को जब ईओयू की टीम ने अरुण कुमार के इस फ्लैट पर जब धावा बोला था तब वहां कोई नहीं था। टीम को वापस लौटना पड़ा था।

बताया जाता है कि तब ईओयू को जानकारी मिली थी कि पटना के फ्लैट पर अरुण कुमार की पत्नी मौजूद थी। लेकिन टीम जब फ्लैट पर पहुंची उससे पहले ही अरुण कुमार की पत्नी वहां से निकल गई थी। अब ईओयू की टीम अरुण कुमार की पत्नी की तलाश में बिहार और झारखंड के कई स्थानों पर छापेमारी कर रही है।

शक है कि अरुण कुमार पत्नी अपने भागलपुर स्थित सरकारी आवास और पटना स्थित फ्लैट से मोटी रकम लेकर निकली है। ईओयू को यह भी शक है कि अरुण कुमार के भागलपुर और पटना ठिकानों पर छापेमारी की सूचना लीक हुई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here