शरद यादव के सम्मेलन बोले राहुल, कहा – मोदी को ‘स्वच्छ’ और हमे चाहिए ‘सच’ भारत

0
363

देश की राजधानी दिल्ली में जेडीयू बागी नेता शरद यादव की ओर से बुलाए गए ‘सांझी विरासत बचाओ सम्मेलन’ में कांग्रेस के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राहुल गाधी ने भाजपा और आरएसएस पर जमकर निशाने साधे। संघ पर निशाना साधते हुए राहुल ने कहा कि आरएसएस ने सत्ता मिलने तक तिरंगे को नहीं किया था सलाम और अब जब वे सत्ता में आए हैं तो तिरंगे को सलामी देना सीखा है। कार्यक्रम में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और वरिष्ठ कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद भी मौजूद थे।

नई दिल्ली के कॉन्स्टिट्यूशन क्लब ऑफ इंडिया आयोजित इस कार्यक्रम में राहुल ने कहा कि ‘एक व्यक्ति एक वोट’ जो संविधान में लिखा है उसे आरएसएस बदलना चाहती है। वो जानते हैं कि उनकी विचारधारा देश में चुनाव जीतने में मदद नहीं कर सकती, इसलिए हर संस्थान में अपने लोगों को डाल रहे हैं। पुलिस, प्रशासन, जज, मीडिया हर जगह अपने लोग बिठाने में लगी है। जिस दिन हर सरकारी संस्था के शीर्ष पदों पर आरएसएस के लोग बैठ जाएंगे तो वे हमे कहेंगे अब ये देश हमारा है।

राहुल गांधी ने इससे आगे कहा कि इस देश को देखने के दो तरीके हैं, एक कहता है ये देश मेरा है, दूसरा कि मैं इस देश का हूं। यही फर्क है आरएसएस और हममें। आरएसएस कहती है ये देश हमारा है तुम इसके नहीं हो। गुजरात में दलितों की पिटाई की और कहा कि ये देश हमारा है, तुम इसके नहीं हो।’ वहीं वित्त मंत्री अरुण जेटली पर निशाना साधते हुए राहुल ने कहा कि जेटली जी लोकसभा में कहते हैं कि कर्ज माफ करना उनकी पॉलिसी नहीं है, किसान मर जाए कोई फर्क नहीं पड़ता।’

राहुल ने पीएम मोदी पर भी निशाना साधा और कहा कि, ‘जहां भी मोदी जी जाते हैं, झूठ बोल जाते हैं। पीएम मोदी कहते हैं, हमें स्वच्छ भारत चाहिए, मैं कहता हूं हमे सच भारत चाहिए। पीएम मोदी ने सभी के बैंक खाते में 15-15 लाख रुपए भेजने का वादा किया था, जो अब तक नहीं आए। मोदी जी ने वादा किया था कि दो करोड़ लोगों को नौकरियां देंगे, उसका क्या हुआ। इस साल तो मोदी सरकार की हालत और भी खराब है, रोजगार देने के बजाय रोजगार के अवसर घटा दिए गए हैं।

राहुल ने कहा कि पीएम मोदी हर जगह ‘मेक इन इंडिया’ की बात करते हैं, लेकिन आप जहां भी जाएं आपको ‘मेड इन चाइना’ दिखेगा। वे इस झूठ को छुपा रहे हैं कि मेक इंडिया पूरी तरह फ्लॉप हो चुका है। वहीं इस दौरान जेडीयू के साथ गठबंधन को लेकर राहुल ने कहा कि, ‘अगर हम सब साथ मिल जाएं तो ये दिखाई भी नहीं देंगे।’ गौरतलब है कि यह सम्मेलन जेडीयू से बाग़ी हो चुके नेता शरद यादव ने बुलाया था और इस सम्मेलन के बहाने शरद यादव ने दिल्ली में अपनी शक्ति प्रदर्शन करने की भी कोशिश की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here