असली और नकली जेडीयू में छिड़ी लड़ाई, सड़क पर दिख रहा पोस्टर वार

0
121

बिहार में अब असली और नकली जेडीयू की लड़ाई शुरू हो गई है। इसका नजारा पटना की सड़क पर दिख रहा है। जहां एक ओर शरद यादव समर्थकों का पोस्टर लगा है जिसपर लिखा है जन अदालत का फैसला, महागठबंधन जारी है। तो वहीं इस पोस्टर के बगल में ही नीतीश कुमार का पोस्टर भी लगा है। इसमें जदयू के राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक की बातें लिखी हुई हैं। दरअसल, शनिवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के निवास स्थान एक अणे मार्ग पर जदयू के राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक है। दूसरी ओर पार्टी से नाराज चल रहे सीनियर लीडर शरद यादव भी पटना के श्री कृष्ण मेमोरियल हॉल में अलग बैठक कर रहे हैं। इस बैठक में नीतीश के भाजपा के साथ मिलकर सरकार बनाने से नाराज जदयू के लोग जुटने वाले हैं। दोनों गुट अपने को असली और दूसरे को नकली जेडीयू कर रहे हैं। शनिवार की बैठक से पहले पटना के सड़क पर दोनों गुट की ओर से पोस्टर वार दिख रहा है। इनकम टैक्स गोलंबर पर शरद यादव के समर्थकों ने पोस्टर लगाया है। पोस्टर पर लिखा है जन अदालत का फैसला, महागठबंधन अब भी जारी है। इस पोस्टर के बगल में ही नीतीश का पोस्टर लगा है। इसमें जदयू के राष्ट्रीय कार्यकारिणी के संबंध में बातें लिखी गई है।
गौरतलब है कि जदयू ने नाराज चल रहे शरद यादव को भी राष्ट्रीय कार्यकारिणी में आने का न्योता दिया है। नहीं आने पर उनके खिलाफ कार्रवाई होने की बात कही जा रही है। शनिवार को होने वाली जदयू की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में फिर से एनडीए में शामिल होने के प्रस्ताव पर मुहर लग जाएगी। इस दौरान बिहार को विशेष राज्य का दर्जा और विशेष पैकेज को लेकर भी चर्चा होगी। दूसरी ओर जदयू प्रवक्ता नीरज ने कहा कि शरद यादव की उम्र हो गई है। उन्हें अब राजनीति से रिटायर्ड हो जाना चाहिए। शरद जदयू को सरकारी पार्टी और अपने गुट को असली बताते हैं। यह उनका वहम है। उनके साथ पार्टी का एक कार्यकर्ता तक नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here