सुषमा स्वराज ने भारत में इलाज के लिये पाक बच्चे को वीजा देने का आश्वासन दिया

0
48

नयी दिल्ली: विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने एक पाकिस्तानी बच्चे के परिवार को भारत में उसके उपचार के लिये वीजा दिए जाने का आश्वासन दिया। स्वराज की प्रतिक्रिया तब आई जब बच्चे के परिवार के सदस्यों में से एक ने बच्चे को वीजा देने के लिये उनसे अनुरोध किया। परिवार के सदस्य ने कहा कि बच्चे को अस्थिमज्जा का उपचार कराने की आवश्यकता है। स्वराज ने एक ट्वीट में कहा, हां, हम उसे वीजा देंगे। ये भी पढ़ें: ‘नेहरू नहीं नेताजी सुभाष चंद्र बोस थे देश के पहले प्रधानमंत्री’

इससे पहले, महज तीन महीने के पाकिस्तानी बच्चे रोहान के पिता ने भी इलाज के लिए भारत को चुना था क्योंकि रोहान के दिल में एक नहीं सात छेद थे। रोहान के पिता कंवल सिद्दीकी ने भी इसके लिए सोशल मीडिया पर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से मदद मांगी थी जहां से तुरंत ही कंवल की फरियाद सुन ली गई।

रोहान पाकिस्तान के लाहौर का निवासी है। वह ‘डी-ट्रांसपोजीशन ऑफ ग्रेट आर्टरीज विध एबनॉरमल ऑरिजन ऑफ मेन आर्टरीज फ्रोम अपोजिट चैम्बर्स विध मल्टिपल विएसडी एंड सेवर पुल्मोनरी हाइपरटेन्शन’ बीमारी थी। यह दिल की एक गम्भीर बीमारी है। साथ ही रोहन के दिल में कई छेद भी थे। रोहान के माता-पिता को भारत के जेपी हॉस्पिटल में ईलाज कराने का वीजा नहीं मिल रहा था, लेकिन भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के प्रयासों के बाद उन्हें वीजा मिला।

इसके बाद, नोएडा के जेपी हॉस्पिटल में रोहान का सफल ईलाज हो सका। मंगलवार को जेपी हॉस्पिटल में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान रोहान के पिता कंवल सिद्दीक की आंखें भर आईं। उन्होंने कहा कि मुझे नहीं पता भारत और पाकिस्तान में क्या दुश्मनी है, लेकिन आज मैं भारत की संवेदनशीलता की वजह से ही अपने बच्चे का समय पर इलाज करा पाया हूं। भारत में ही मेरे बच्चे को नया जीवन मिला है। मैं पाकिस्तानी जरूर हूं लेकिन भारत की दरियादिली और संवेदनशीलता पर फख्र है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here