2022 तक खत्म हो जाएगा आतंकवाद-नक्सलवाद-राजनाथ सिंह

0
190

केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने विश्वास जताया कि वर्ष 2022 तक आतंकवाद, नक्सलवाद और वामपंथी उग्रवाद का खात्मा हो जाएगा। राजनाथ ने ‘संकल्प से सिद्धि-न्यू इण्डिया मूवमेंट (2017-2022) नये भारत का निमार्ण’ कार्यक्रम के मौके पर सभी को भारत को स्वच्छ, गरीबी मुक्त, भ्रष्टाचार मुक्त, आतंकवाद मुक्त, सम्प्रदायकिता मुक्त तथा जातिवाद मुक्त बनाने की शपथ दिलाई।

गृह मंत्री ने कहा कि महात्मा गांधी ने स्वच्छता के महत्व को पहचानकर इसे एक अभियान का रूप दिया था, लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसे एक जनान्दोलन बनाया है। उन्होंने कहा कि बीजेपी सरकार बनाने की राजनीति नहीं करती, बल्कि राष्ट्र निर्माण और विकास की सियासत करती है।

राजनाथ ने शुक्रवार को मध्य विधान सभा की ओर ऐशबाग के आशा बिहार गेस्ट हाउस में आयोजित भाजपा कार्यकर्ता सम्मेलन में कहा कि दुनिया के राजनीतिक विशेषज्ञों का दावा है कि वर्ष 2019 में भाजपा पूर्ण बहुमत में सरकार बनाएगी। हाल में असम, अरुणाचल, मणिपुर में भाजपा की सरकारें बनी है। कर्नाटक में बनने जा रही है। देश के लोगों का मानना है कि भाजपा के युग की शुरूआत हो चुकी है। श्री सिंह ने कहा कि तीन वर्ष के कार्यकाल में किसी भी मंत्री पर भ्रष्टाचार का आरोप नहीं लगा है। भाजपा की ही देन है जो झुग्गी झोपड़ी में रहने वाले लोगों का खाता खुल गया है। गरीब को मुफ्त गैस दी गई।

इसके साथ ही भाजपा की उपलब्धियां गिनाईं। गरीबों को आवास मुहैया कराए जा रहे हैं। बेनामी संपत्ति कानून को चालू किया गया है जिसके तहत 800 करोड़ रुपए की संपत्ति जब्त की गई है। तीन हजार फर्जी कम्पनियों पर सरकार नजर रखे हुए है। शहर के विकास के लिए 104 किमी. रिंग रोड का काम शुरू हो गया है। सात फ्लाई फ्लोर बनाने की कार्यवाही भी शुरू हो गई है। पांच वर्ष में लखनऊ में 10 हजार करोड़ के निवेश का लक्ष्य रखा गया था। जिसे पूरा किया जा रहा है।

उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने कहा कि बूथ स्तर पर काम करने वाले कार्यकर्ताओं को स्वागत करता हूं। क्योंकि पार्टी को विजय दिलाने का काम कार्यकर्ताओं ने किया है। इस मौके पर कैबिनेट मंत्री बृजेश पाठक, नगर अध्यक्ष मुकेश शर्मा, पूर्व एमएलसी विंध्यवासिनी, पूर्व सांसद कुसुम राय, क्षेत्रीय पार्षद साकेत शर्मा व पूर्व विधायक विद्या सागर गुप्ता।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here