डेरा मुख्यालय के भीतर नहीं घुसी सेना, राम रहीम की Z प्‍लस सुरक्षा खत्‍म

0
59

सिरसा (जेएनएन)। यौन शोषण मामले में डेरा प्रमुख राम रहीम के दोषी करार दिए जाने के बाद समर्थकों द्वारा हिंसात्‍मक हंगामे के बीच हरियाणा के मुख्‍य सचिव डीएस ढेसी ने शनिवार को डेरा मुख्यालय के भीतर सेना के प्रवेश से इंकार करते हुए बताया कि हिंसा में मारे गए सभी लोग डेरा समर्थक हैं और अब तक 524 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। मुख्य सचिव ने कहा, कल के ऑपरेशन के दौरान पंचकुला कोर्ट से कुछ दूरी पर डेरा समर्थक की गाडी से एक AK-47 एक माउज़र, दूसरी गाडी से 1 पिस्तौल और पांच राइफल बरामद की गई है।

राम रहीम की जेड प्‍लस सुरक्षा खत्‍म

ढेसी ने बाबा को वीआइपी ट्रीटमेंट और एसी की सुविधाएं देने को अफवाह बताया। ढेसी के मुताबिक अदालत का फैसला आते ही बाबा की जेड प्लस सुरक्षा खत्म हो गई थी। पहले डेरा प्रमुख को सड़क मार्ग से ले जाना चाहते थे, लेकिन हिंसा के चलते उन्हें हेलीकॉप्टर से ले जाया गया। इसका खर्च हरियाणा सरकार ने दिया। हिंसा में मारे गए सभी लोग बाहर से हैं और डेरा प्रमुख के समर्थक हैं।

HC ने मांगा डेरा की संपत्‍ति का ब्‍यौरा

भाजपा अध्‍यक्ष अमित शाह ने हरियाणा के भाजपा प्रदेश अध्‍यक्ष अनिल जैन के साथ दिल्‍ली भाजपा मुख्‍यालय में हालात पर चर्चा की। डेरा हिंसा पर हरियाणा के एएसजी सत्‍यपाल जैन ने अपने बयान में कहा कि केवल पंचकुला में 28 लोगों की मौत हो गयी। वहीं हाईकोर्ट ने डेरा की संपत्‍ति का ब्‍यौरा मंगलवार तक सौंपने का निर्देश दिया है। हरियाणा के डीजी ने आश्‍वासन दिया है कि स्‍थिति नियंत्रण में है। दूसरी ओर राम रहीम के 6 सुरक्षागार्ड समेत दो डेरा समर्थकों पर भी देशद्रोह का केस दर्ज किया गया है।

समर्थकों के पास लाठियां व पत्‍थर

खबर के अनुसार, फिलहाल मुख्‍यालय में एक से डेढ़ हजार समर्थक मौजूद हैं और उनके पास लाठियां व पत्‍थर होने की खबर है। हालांकि डीजीपी ने बताया कि परसों रात तक समर्थकों के पास किसी प्रकार के हथियार नहीं थे। बता दें कि शुक्रवार देर रात सेना ने डेरा सच्चा सौदा मुख्यालय को घेर लिया था। वहीं करनाल में 15 समर्थकों को गिरफ्तार किया गया है।

हिंसा पर हाईकोर्ट मे सुनवाई, 36 डेरा सील

दूसरे इलाकों में भी डेरा सील किए जा रहे हैं। जिला प्रशासन व पुलिस ने कुरुक्षेत्र, अंबाला, यमुनानगर, कैथल, समेत 36 डेरों को सील कर दिया है। उमरी गांव का डेरा खाली कराया जा रहा है। दूसरी ओर कल की हिंसा को लेकर हाईकोर्ट में सुनवाई शुरू हो गयी है। शुक्रवार से जारी बवाल पर केंद्र सरकार भी निगरानी कर रही है। खबर है कि गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने शनिवार सुबह अधिकारियों की एक मीटिंग बुलाई है।

अब तक 32 मौतें

पंचकूला और आसपास के इलाकों में हुई हिंसा में अब तक कम से कम 32 लोगों की जान जा चुकी है। राम रहीम को दोषी करार दिए जाने के बाद उनके समर्थकों ने जमकर हिंसा मचाई थी।

हिंसाग्रस्‍त इलाकों में धारा 144

पंचकुला के हिंसाग्रस्त इलाकों में धारा-144 लगाई गई है। पंजाब के फरीद कोट, बरनाला, पटियाला समेत 10 जिलों में कर्फ्यू लगाया गया है। अंबाला और चंडीगढ़ में सेना ने हेल्पलाइन नंबर जारी किया है। अंबाला के लिए 01711904 और चंडीगढ़ के लिए 01721904 हेल्पलाइन नंबर है। फिलहाल, पंचकुला में सेना तैनात है और हिंसा की कोई खबर नहीं आ रही है।

हटाए गए पंचकुला के जिला कलेक्‍टर व डीएसपी

पश्चिम रेलवे ने 6 ट्रेनें पूरी तरह और 2 ट्रेनें आंशिक तौर पर रद कर दी है। डेरा सच्चा सौदा के समर्थकों की हिंसा रोकने में असफल रहने पर पंचकुला के डिस्ट्रिक्ट कलेक्टर और डीएसपी को पद से हटा दिया गया है।

डेरे में 32 हजार से अधिक लोग

सुरक्षा एजेंसियों के अनुसार डेरे में 32 हजार से ज्यादा लोग हैं। इनमें बड़ी संख्या में महिलाएं व बच्चे हैं। महिलाओं व बच्चों को बाहर निकालना बड़ी चुनौती है। डेरे के चारों तरफ सेना लगा दी गई है और सेना ने पूरी तरह से नाकेबंदी कर दी है। रात में डेरे से कम से कम 5000 लोग घरों को लौटे हैं। अधिकारियों के अनुसार किसी भी स्थिति से निपटने के लिए अब सिरसा में पर्याप्त सुरक्षा प्रबंध है।

डेरा सच्चा सौदा का मुख्यालय

शहर से बाहर की तरफ मौजूद डेरा दो हिस्सों में बंटा हुआ है। इसमें पुराना डेरा और उससे करीब पांच किलोमीटर दूर नया व बड़ा डेरा बनाया गया है। फोर्स ने अभी पुराने डेरे से पहले नाका लगाया हुआ है। एक तरफ से पहले नाकाबंदी है तो बाकी तीन तरफ से डेरे को फोर्स घेरेगी। इसमें आर्मी और पैरामिलिट्री फोर्स लगाई है, ताकि कोई व्यक्ति पीछे से न भाग सके।

पुलिस करवा रही मुनादी

पुलिस डेरे को टेकओवर करने की मुनादी करवा रही है। डेरे में मौजूद लोगों को प्रशासन की तरफ से लोगों को निकालने के लिए साधन उपलब्ध करवाने और उनको निकालने के लिए कहा जा रहा है।

डेरा एक नजर में

– क्षेत्रफल : करीब 900 एकड़

– सत्संग घर : करीब दस एकड़

– दीवार : दो से ढाई फुट मोटी है

– ऊंचाई : करीब 15 फीट। कई जगह तीस से चालीस फुट।

– लंबाई : पांच किलोमीटर में

– आवासीय कॉलोनी करीब तीन एकड़ में

जानें पूरा मामला

शुक्रवार को पंचकूला में सीबीआई जज जगदीप सिंह ने डेरा के प्रमुख राम रहीम को बलात्कार के मामले में दोषी ठहराया था। डेरा प्रमुख को वर्ष 2002 में लिखी गई एक लिखित शिकायत के आधार पर दोषी करार दिया गया। इस शिकायत में आरोप लगाया गया था कि उसने दो साध्वियों का यौन उत्पीड़न किया। इस मामले में राम रहीम के खिलाफ 28 अगस्त को सजा सुनाई जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here