लालू ने कहा- BJP के खिलाफ युद्ध का एलान, तेजस्वी बनेंगे अर्जुन और तेजप्रताप कृष्ण

0
309

राजद अध्यक्ष लालू यादव ने अपनी रैली को एतिहासिक बताते हुए कहा कि अब युद्ध का एलान हो गया है। मेरे दोनों बेटे तेजस्वी और तेजप्रताप भाजपा को भगाने के लिए तैयार हो गए हैं। भाजपा को भगाने के लिए जो हमने युद्ध का एलान किया है उस युद्ध की कमान अब तेजस्वी के हाथ में हमने सौंप दिया है। लालू ने कहा कि तेजस्वी अर्जुन हैं और अब युद्ध में जीत का उत्तरदायित्व उनके ऊपर है और उनके बड़े भाई तेजप्रताप युद्ध के मैदान में तेजस्वी के सारथि कृष्ण बनेंगे और दोनों मिलकर युद्ध जीतेंगे। लालू ने कहा कि आखिर लड़ाई तेजस्वी को ही लड़नी है। लालू ने कहा कि तेजस्वी से ही नीतीश कुमार डर गए थे इसीलिए उसपर आरोप लगाकर उसे किनारा कर दिया, लेकिन अब बिहार का भविष्य तेजस्वी ही है। विपक्षी एकता को मजबूती देने के लिए रविवार को राजद की रैली आयोजित की गई थी, जिसमें राजद अध्यक्ष लालू यादव का साथ अठारह पार्टियों के प्रतिनिधियों ने दिया। जहां रैली में कई बड़े चेहरे दिखे, वहीं कई दिग्गजों ने रैली से किनारा कर लिया। इस रैली का मुख्य उद्देश्य बीजेपी पर हमला बोलना था और विपक्षी एकता की ताकत दिखाना था, लेकिन मंच पर लालू का ही परिवार दिख रहा था। मंच पर पहली पंक्ति में तेजस्वी, तेजप्रताप, मीसा भारती और लालू राबड़ी राजनीति के बड़े चेहरों के साथ विराजमान थे तो वहीं पार्टी के नेता उनके बाद की कतार में नजर आए। इससे अब लगता है कि विपक्षी एकता में राजद और लालू के परिवार की अहम भूमिका होगी।
रैली तो भाजपा को भगाने के लिए आयोजित की गई थी लेकिन तंज नीतीश कुमार पर ज्यादा कसे गए। ममता बैनर्जी ने तो भोजपुरी से अपने भाषण की शुरूआत की और शेरो शायरी में ही भाषण खत्म किया। दूसरी ओर सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने नीतीश पर जमकर हमला बोला तो शरद यादव ने भी जदयू की चेतावनी को धता बताते हुए जमकर अपनी भड़ास निकाली।
यह पहली बार था कि राजद की रैली का आयोजन हाइटेक किया गया था। बड़ी स्क्रीन पर जनता को पीएम मोदी के पूर्व के भाषण और साथ ही नीतीश कुमार के भी पहले के भाषण को दिखाया गया ये पिछले विधानसभा चुनाव के दौरान के भाषण थे, जिसमें दोनों ने एक-दूसरे पर आरोप लगाए थे।
इस हाइटेक रैली में जहां टेक्निक का भी कमाल दिखा तो वहीं रैली के पल-पल के अपडेट्स सोशल मीडिया पर पोस्ट किए जाते रहे। लेकिन इसी बीच एक गलती हो गई कि रैली की तस्वीर इडिट कर ट्विटर पर पोस्ट की गई जिसका न्यूज एजेंसी एएनआइ ने खुलासा कर दिया और लोगों ने जमकर इस पर प्रतिक्रिया दी। राज की रैली में लालू के बेटे तेजप्रताप यादव का अलग अंदाज दिखा वो बिल्कुल अपनी पिता की छवि में दिखे वैसे ही भाषण और वैसी ही शैली। उन्होंने युद्ध का एलान शंख फूंककर किया और भाजपा और आरएसएस पर तीखी टिप्पणी कर डाली। लेकिन तेजस्वी यादव ने संयमित भाषण दिया और बिल्कुल अलग अंदाज में मंच से संबोधित किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here