Teacher’s Day: देखीं हैं आपने टीचर-स्‍टूडेंट कनेक्‍शन को दिखाती बॉलीवुड की यह 6 फिल्‍में

0
26

नई दिल्‍ली: आज देशभर में टीचर्स डे मनाया जा रहा है और बॉलीवुड फिल्‍मों में दिखाये जाने वाले रिश्‍तों में ‘टीचर और स्‍टूडेंट्स’ का कनेक्‍शन काफी खास रहा है. अब चाहे वायलेन बजाता टीचर ‘राज’ हो या फिर अपने स्‍टूडेंट्स को पढ़ाने के लिए किसी भी हद तक जाता ‘प्रभाकर आनंद’, फिल्‍मों के इन टीचर्स ने सभी का दिल जीत लिया. चाहे फैशन का स्‍टाइल हो या फिर अपने स्‍टूडेंट्स के साथ स्‍पेशल कनेक्‍शन, इन फिल्‍मों ने टीचर्स के कई चेहरों को सामने रखा. हम बता रहे हैं आपको बॉलीवुड की कुछ ऐसी फिल्‍में, जिन्‍होंने हमें दे दिए हमेशा याद रहने वाले शानदार टीचर.
इस फिल्‍म में अमिताभ बच्‍चन नारायण शंकर नाम के टीचर के किरदार में नजर आए थे, जो गुरुकुल में बेहद अनुशासन बनाए रखते थे. लेकिन ऐसे में आता है राज आर्यन, जिसने इस कॉलेज की फिजाओं में प्‍यार का रंग घोल दिया.5 सितम्बर, 2017 11:38 AM
Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Teacher’s Day: देखीं हैं आपने टीचर-स्‍टूडेंट कनेक्‍शन को दिखाती बॉलीवुड की यह 6 फिल्‍में
नई दिल्‍ली: आज देशभर में टीचर्स डे मनाया जा रहा है और बॉलीवुड फिल्‍मों में दिखाये जाने वाले रिश्‍तों में ‘टीचर और स्‍टूडेंट्स’ का कनेक्‍शन काफी खास रहा है. अब चाहे वायलेन बजाता टीचर ‘राज’ हो या फिर अपने स्‍टूडेंट्स को पढ़ाने के लिए किसी भी हद तक जाता ‘प्रभाकर आनंद’, फिल्‍मों के इन टीचर्स ने सभी का दिल जीत लिया. चाहे फैशन का स्‍टाइल हो या फिर अपने स्‍टूडेंट्स के साथ स्‍पेशल कनेक्‍शन, इन फिल्‍मों ने टीचर्स के कई चेहरों को सामने रखा. हम बता रहे हैं आपको बॉलीवुड की कुछ ऐसी फिल्‍में, जिन्‍होंने हमें दे दिए हमेशा याद रहने वाले शानदार टीचर.

इस फिल्‍म में अमिताभ बच्‍चन नारायण शंकर नाम के टीचर के किरदार में नजर आए थे, जो गुरुकुल में बेहद अनुशासन बनाए रखते थे. लेकिन ऐसे में आता है राज आर्यन, जिसने इस कॉलेज की फिजाओं में प्‍यार का रंग घोल दिया.

हालांकि यह फिल्‍म भी बॉक्‍स ऑफिस पर ज्‍यादा कमाल नहीं दिखा सकी, लेकिन रेमो डिसूजा के निर्देशन में बनी यह पहली फिल्‍म कॉलेज के बैक बैंचर्स के छिपे हुए टैलेंट को सामने वाली फिल्‍म थी. इस कॉमेडी फिल्‍म में जैकी भगनानी, पूजा गुप्‍ता, चंदन रॉय जैसे कलाकार नजर आए थे. इस फिल्‍म में अरशद वारसी और रितेश देशमुख टीचर बने नजर आए थे. लगातार बदलते सिलेबस और स्‍कूलों में बच्‍चों पर बढ़ते पढ़ाई के प्रेशर ने नन्‍हें-मुन्‍नों के लिए काफी परेशानियां खड़ी की हैं. ऐसे में कई बार पेरंट्स हर बच्‍चे को इस दौड़ का हिस्‍सा बनाने की कोशिश करते हैं. इसी गंभीर विषय पर आमिर खान अपनी पहली निर्देशित फिल्‍म ‘तारे जमीन पर’ लेकर आए. इस फिल्‍म में डिस्‍लेक्सिया से जूझ रहे बच्‍चों को पढ़ाने के तरीके और उन्‍हें ट्रीट करने के सही तरीकों को दिखाया गया था.इस फिल्‍म में शाहिद कपूर पहली बार टीचर बने नजर आए थे. हालांकि यह फिल्‍म बॉक्‍स ऑफिस पर कुछ ज्‍यादा कमाल नहीं कर पायी थी, लेकिन म्‍यूजिक टीचर बने शाहिद कपूर और स्‍कूल के प्रिंसिपल बने नाना पाटेकर के किरदारों को काफी पसंद किया गया था.टीचर और स्‍टूडेंट्स के बीच के रिश्‍तों पर बनी फिल्‍मों में एक फिल्‍म है निर्देशक प्रकाश झा की ‘आरक्षण’, जो इसी मुद्दे पर बनी है. इस फिल्‍म में भी अमिताभ बच्‍चन एक स्‍कूल के प्रिंसिपल के किरदार में थे, जो आगे चलकर एक समाज सेवक बन जाते हैं. ‘प्रभाकर आनंद के किरदार में अमिताभ ने सिस्‍टम से जूझते हुए काफी अहम और सकारात्‍मक बदलाव दिखाए.करण जौहर की यह फिल्‍म पूरी तरह स्‍कूल लाइफ और स्‍टूडेंट्स के बीच होने वाले कॉम्‍पिटीशन पर आधारित थी. इस फिल्‍म से आलिया भट्ट, वरुण धवन और सिद्धार्थ मल्‍होत्रा ने बॉलीवुड में अपनी शुरुआत की थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here