फीफा विश्व कप शुरू होने में बचे केवल 27 दिन, जानिए किन रिकॉर्ड्स पर होंगी नजरें

0
194

नई दिल्ली, जेएनएन। भारत में होने वाले फीफा अंडर 17 विश्व कप शुरू होने में अब सिर्फ 27 दिन बचे हैं। जानिए, इस दौरान किन खास रिकॉर्ड पर रहेगी खिलाड़ियों और टीमों की नजर-

1- इस प्रतियोगिता में सिर्फ दो टीमें ब्राजील और नाइजीरिया ऐसी हैं जिन्होंने गोल दागने का शतक बनाया है।

2- घाना की टीम लगातार चार बार (1991, 1993, 1995 और 1997) फाइनल में पहुंची और दो बार खिताब (1991, 1995) जीतने में सफल रही ब्राजील और नाइजीरिया ही दो ऐसी टीमें हैं, जिन्होंने सफलतापूर्वक अपने खिताब का बचाव किया है। ब्राजील ने 1997 में खिताब जीता और 1999 में उसका बचाव किया।

3- नाइजीरिया ने 2013 में खिताब जीता और 2015 में उसका बचाव किया फीफा अंडर-17 विश्व कप फुटबॉल के इतिहास में सिर्फ दो टीमें ही ऐसी हैं, जिन्होंने गोलों का शतक लगाया है। इस टूर्नामेंट में ब्राजील ने 166 और नाइजीरिया ने 149 गोल दागे हैं। स्पेन के नाम 97 गोल दर्ज हैं और वे भारत में अगले माह अपना आंकड़ा सौ के पार पहुंचा सकते हैं।

4- स्पेन जैसी ही स्थिति कमोबेश मेक्सिको (97), जर्मनी (92) और घाना (86) की है। इनके पास भी भारतीय सरजमीं पर अपने गोलों की संख्या सौ के पार पहुंचाने का मौका होगा।

5- नाइजीरिया के नाम तो एक ऐसा रिकॉर्ड भी है, जिसे बनाने के लिए ज्यादातर टीमें बेताब रहती हैं। वो टूर्नामेंट के इतिहास में सबसे ज्यादा समय तक गोल न खाने वाली टीम है। 1987 से लेकर 1993 विश्व कप तक नाइजीरिया के खिलाफ कोई भी टीम गोल नहीं दाग सकी। इस दौरान उन्होंने 830 मिनट मैदान पर गुजारे और एक भी गोल नहीं खाया।

6- मेक्सिको ने 2013 में ब्राजील के खिलाफ क्वार्टर फाइनल में सबसे ज्यादा पेनाल्टी शूटआउट में जीत दर्ज करने का रिकॉर्ड बनाया। फीफा की सभी प्रतियोगिताओं में यह सबसे ज्यादा पेनाल्टी शूटआउट में जीतने का रिकॉर्ड है। इस मैच का परिणाम 11-10 से मेक्सिको के पक्ष में रहा था। कुल 24 प्रयास हुए जिसमें 21 गोल में बदले।

7- सिर्फ दो बार एक ही कंफेडरेशन की टीमें फाइनल में टकराई हैं। पहली बार 1993 में घाना का सामना नाइजीरिया से हुआ था। जबकि 2015 में नाइजीरिया की भिड़ंत माली से हुई।

8- ब्राजील, जर्मनी, मेक्सिको, अमेरिका, न्यू गिनी और कोस्टा रिका इस विश्व कप में भाग लेने वाले वे छह देश हैं, जो चीन में 1985 में हुए पहले विश्व कप में भी खेले।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here