लोकसभा में 546 सदस्य बोलकर राहुल गांधी ने फिर की गलती

0
52

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी सार्वजनिक कार्यक्रमों में कभी-कभी कुछ ऐसी गलतियां कर जाते हैं जो उनपर भारी पड़ जाती हैं। इसके बाद वह मजाक का पात्र बन जाते हैं और लोग चुटकियां लेने लेते हैं। अमेरिका दौरे पर बर्कली यूनिवर्सिटी में स्टूडेंट्स को संबोधित करने के दौरान भी कुछ ऐसा ही हुआ। इस कार्यक्रम में राहुल ने भारतीय संसद में लोकसभा के कुल सदस्यों की संख्या 546 बता डाली। इसके बाद से सोशल मीडिया पर उनकी खिंचाई शुरू हो गई। ऐसा पहली बार नहीं हुआ है जब राहुल गांधी से भाषण देने के दौरान कोई चूक हुई हो और उनका मजाक बना हो। पहले भी राहुल से इस तरह की गलतियां करते रहे हैं। दरअसल, लोकसभा में कुल सदस्यों की संख्या 545 है। इसमें 543 सांसदों को जनता चुनती है और दो सदस्य (ऐंग्लो-इंडियन) मनोनित किए जाते हैं। ‘आलू की फैक्ट्री’
यूपी के फिरोजाबाद में एक जनसभा के दौरान राहुल ने कहा था, ‘आपलोग अपने इलाके में आलू फैक्ट्री की मांग कर रहे हैं, लेकिन आपको समझना चाहिए कि मैं विपक्ष का नेता हूं। मैं सरकार पर दबाव बना सकता हूं लेकिन फैसला नहीं ले सकता। मैं किसानों के लिए आलू की फैक्ट्री नहीं खोल सकता हूं।’
गलत महिला को गले लगाया
राहुल की वजह से गुजरात में कांग्रेस को किरकिरी झेलनी पड़ी थी। ऊना में राहुल को एक दलित महिला से मिलना था, जिसकी गोरक्षकों ने कथित रूप से नंगा कर बुरी तरह पिटाई की थी। जब राहुल वहां पहुंचे तो पीड़ित महिला को गले लगाने के बजाय उसके किसी रिश्तेदार को गले लगा लिया। उस महिला पर उगाही और दंगे सहित कई मामले दर्ज थे।
‘स्टीव जॉब्स को माइक्रोसॉफ्ट का बताया’
मुंबई में एक कार्यक्रम के दौरान राहुल ने छात्रों से कहा, ‘एक दिन आप लोग इस देश को चलाएंगे। आप में से कुछ किसी संस्था की अगुवाई करेंगे। आपलोग माइक्रोसॉफ्ट में स्टीव जॉब्स होंगे और देश में फेसबुक के लीडर बनेंगे।’
वेणुगोपाल को मैडम स्पीकर कहा
लोकसभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण का जवाब देते हुए राहुल ने लोकसभा के चेयरमैन पी वेणुगोपाल को ‘मैडम स्पीकर’ बता डाला। जल्द ही उन्हें अपनी गलती का अहसास हुआ और माफी मांग ली।
गांधी का नाम गायब
सदन में एनडीए सरकार को मनरेगा (महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना) पर घेरते हुए राहुल नरेगा बोल गए। इसमें महात्मा गांधी का नाम गायब था। जब राहुल गांधी ने अपनी गलती सुधारी तो ट्रेजरी बेंच के कुछ सदस्य जोर से चिल्लाए, ‘भूल गया, भूल गया…’।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here