दुर्गापूजा : कल से शक्तिपीठों में शुरू होगी देवी की आराधना, जानिए कब खुलेगा मां का पट

0
178

शारदीय नवरात्र कल यानी गुरुवार से शुरू हो रहा है. नौ दिनों तक चलने वाली इस पूजा में देवी दुर्गा के नौ स्वरूपों की आराधना की जाती है. कलश स्थापना का शुभ मुहूर्त साढ़े 12 बजे दोपहर तक है. सुबह सवा 10 बजे तक अमृत योग है. शास्त्रों के अनुसार अमृत योग के बाद अभिजीत मुहूर्त साढ़े ग्यारह बजे के बाद एक घंटे तक रहेगा. हालांकि समयाभाव या किसी अन्य कारणों से उदय कालीन तिथि मान कर दिन भर कलश स्थापना होगी. मध्याह्न में अभिजीत मुहूर्त 11 :36 बजे से 12 :24 बजे के बीच है, जिसमें कलश स्थापना कर विशेष कृपा पा सकते हैं.

सप्तमी को 9.40 बजे खुलेगा मां का पट : यदि मुहूर्त की बात करें तो 27 सितंबर सप्तमी तिथि को सुबह 9.40 बजे से देर शाम तक माता रानी के पट खुलने का शुभ मुहूर्त है. आचार्य पं श्रीपति त्रिपाठी बताते हैं कि नवरात्रि में मां दुर्गा की पूजा करने से जातक को हर मुश्किल से छुटकारा मिल जाता है.

नवरात्र में मां के नौ रूपों की होगी पूजा
21 सितंबर : मां शैलपुत्री की पूजा
22 सितंबर : मां ब्रह्मचारिणी की पूजा
23 सितंबर : मां चंद्रघंटा की पूजा
24 सितंबर : मां कूष्मांडा की पूजा
25 सितंबर : मां स्कंदमाता की पूजा
26 सितंबर : मां कात्यायनी की पूजा
27 सितंबर : मां कालरात्रि की पूजा
28 सितंबर : मां महागौरी की पूजा
29 सितंबर : मां सिद्धिदात्री की पूजा
30 सितंबर : विजयादशमी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here