‘भारत और अमेरिका मिलकर तबाह कर दें पाकिस्तान का परमाणु जखीरा’

0
205

अमेरिका के पूर्व सेनेटर लैरी प्रेसलर का कहना है कि डॉनल्ड ट्रंप भारत के लिए अब तक के इतिहास में सबसे बेहतर यूएस प्रेजिडेंट साबित होंगे। लैरी का कहना है कि हाल ही में पाकिस्तान पर आतंकवादियों को पनाह देने के मामले में दबाव बनाने के बाद अब भारत और अमेरिका को साथ मिलकर पाकिस्तान के परमाणु जखीरे पर हमला कर के उसे तबाह कर देना चाहिए।

लैरी ने हमारे सहयोगी ‘टाइम्स ऑफ इंडिया’ से बातचीत में कहा कि ऐसा संभव करने के लिए सबसे पहले डॉनल्ड ट्रंप को पेंटागन पर नजर डालनी होगी, जिसने हमेशा पाकिस्तान को बढ़ावा दिया है। लैरी के मुताबिक इसी बढ़ावे की वजह से पाकिस्तान में इतनी ताकत आई है कि उसने संयुक्त राष्ट्र महासभा में भारत को ‘आतंक की जननी’ तक कह दिया। लैरी ने बताया कि ट्रंप का पेंटागन को ‘दलदल’ बताना एक अच्छा संकेत हैं, जिससे जल्द पेंटागन में सुधार होने की संभावना है।

तीन बार सेनेटर और 2 बार हाउस ऑफ रेप्रिजेंटटिव के सदस्य रहे 75 वर्षीय लैरी चर्चित प्रेसलर संशोधन के लिए जाने जाते हैं जिसके तहत 1990 में पाकिस्तान को दी जाने वाली अमेरिकी सैन्य सहायता पर रोक लगी थी। रिपब्लिकन रहे प्रेसलर ने अपनी किताब ‘नेबर्स इन आर्म्स’ में अमेरिकी विदेश नीति में आए बदलावों पर चर्चा की है जिसके जरिए पाकिस्तान न्यूक्लियर हथियार विकसित कर पाया है।

प्रेसलर काफी समय से रिपब्लिकन पार्टी से खुद को अलग कर चुके हैं। उन्होंने साल 2014 में निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लड़ा था और साल 2016 के राष्ट्रपति चुनाव में हिलरी क्लिंटन को समर्थन दिया था। ट्रंप से कई मतभेदों के बावजूद लैरी को लगता है कि ट्रंप इतने भी बुरे नहीं हैं जितना उनको यूएस मीडिया बताती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here