बॉम्बे हाईकोर्ट ने बिग बॉस निर्माताओं, कलर्स टीवी के खिलाफ अश्लीलता का मामला निरस्त किया

0
201

बंबई उच्च न्यायालय ने मनोरंजन टीवी चैनल कलर्स टीवी और रियलिटी शो बिग बास के निर्माता एंडेमोल इंडिया प्राइवेट लिमिटेड के खिलाफ 2008 में दर्ज अश्लीलता और महिलाओं के गलत चित्रण का मामला निरस्त कर दिया हैं।

‘सीक्रेट बैलेट’ के निर्देशक ने मासुरकर को दी मुबारकबाद

चैनल और शो के निर्माताओं के खिलाफ अक्तूबर 2008 में उपनगर अंधेरी थाने में भादंसं की धाराओं 292 और 294 अश्लीलता तथा महिलाओं के अभद्र चित्रण कानून की संबंधित धाराओं के तहत दंडनीय अपराधों के लिए प्राथमिकी दर्ज हुई थी।

मलाइका ने पहनी ऐसी ड्रेस, फैंस को नहीं आई रास, इंस्टाग्राम पर हुई ट्रोलिंग का शिकार

यह मामला मुंबई प्रदेश युवा कांग्रेस के प्रमुख सुनील अहीर ने दर्ज करायी थी। उनका आरोप था कि उन्होंने शो देखा और पाया कि प्रतिभागी अश्लीलता, अभद्रता और महिलाओं का गलत चित्रण प्रस्तुत कर रहे थे।

अभिषेक ने छोड़ी, शत्रुध्न सिन्हा के बेटे लव सिन्हा ने लपकी ‘पलटन’?

न्यायमूर्ति रंजीत मोरे और न्यायमूर्ति साधना जाधव की खंडपीठ ने पिछले सप्ताह प्राथमिकी रद्द की और कहा कि शिकायत में कई खामियां हैं और दो मौकों पर समय दिये जाने के बावजूद पुलिस अदालत को जांच में की गई प्रगति के बारे में जानकारी नहीं दे पाई।- एजेंसी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here