मुहर्रम जुलूसों के रूट पर बवाल, एसपी समेत कई पुलिसकर्मी घायल, कई वाहन फूंके

0
251

मुहर्रम पर कानून व्यवस्था बनाए रखना उत्तर प्रदेश पुलिस के लिए चुनौती बन गया। निर्धारित मार्गो से हटकर ताजिया निकाले जाने पर राज्य में कई स्थानों पर बवाल हुआ। कानपुर में हालात ज्यादा खराब हो गए। इस दौरान जमकर फायरिंग, पथराव, आगजनी हुई और पेट्रोल बम चले। उपद्रवियों ने पुलिस चौकी में तोड़फोड़ की। इसमें तीन पुलिसकर्मियों समेत कई लोग घायल हो गए। कानपुर में जूही के परमपुरवा और रावतपुर गांव में मुहर्रम का जुलूस ले जाने को लेकर बवाल हो गया। उपद्रवियों ने चौकी में तोड़फोड़ कर पुलिस वाहन क्षतिग्रस्त कर दिए। एक वैन में आग लगाकर सिपाही की बाइक समेत दर्जन भर वाहन फूंक दिए। रावतपुर गांव में पोस्टर बैनर फाड़ने के बाद जुलूस रोकने और निकालने पर अड़े दो पक्षों में सुबह और फिर रात में लाठी डंडे और पत्थर के साथ गोलियां और पेट्रोल बम चले। जूही में एसपी साउथ व कई पुलिसकर्मियों समेत दोनों स्थानों पर करीब एक दर्जन लोग घायल हुए। उपद्रवियों को काबू में लाने के लिए पुलिस ने जूही में चिली बम, आंसू गैस, रबर बुलेट चलाए।

देर शाम एडीजी, आइजी, कमिश्नर, डीएम, डीआइजी पीएसी व आरएएफ के साथ पहुंचे तो हालात पर काबू पाया जा सका। बड़ी संख्या में पुलिस व पीएसी तैनात कर दी गई है। न्यायिक जांच के आदेश दिए गए हैं। एडीजी अविनाश ने चंद्र ने बताया कि जुलूस निकालने को लेकर दो पक्षों के बीच विवाद होना सामने आया है।

बरेली के बारादरी थाना क्षेत्र के जोगी नवादा में प्रस्तावित रूट से ताजिया जुलूस आगे बढ़ाने पर बवाल हो गया। पथराव में छह से अधिक लोग घायल हो गए। पीलीभीत में इस साल ताजियों की संख्या बढ़ाने और अलग रूट से जुलूस निकालने का आरोप लगाते हुए दूसरे पक्ष के लोग विरोध में उतर आए। उन्होंने ताजिया जुलूस को रास्ते में ही रोक दिया। इस बात को लेकर गांव बिसेन में विवाद हो गया। मारपीट और पत्थरबाजी में 12 लोग चोटिल हो गए। गोंडा के मसकनवां में जुलूस के दौरान दो पक्ष आमने-सामने आ गए।

अंबेडकरनगर के न्योरी बाजार में जुलूस और मूर्ति विसर्जन एक ही रास्ते से निकलते समय दो संप्रदायों में जमकर बवाल हुआ। सम्भल में ताजिया और मेहंदी के जुलूस को लेकर रविवार को सम्भल में बवाल हो गया। दस लोग घायल हो गए। सिसौटा में मेहंदी का जुलूस निकाल रहे लोगों पर पथराव किया गया, जबकि परियावली में बिना ताजिया खोले जुलूस निकालने का दूसरे समुदाय के लोगों ने विरोध कर दिया। इस पर गुस्साए लोगों ने जाम लगा दिया। बाद में पुलिस ने लाठियां भांजकर कर लोगों को खदेड़ा।

इलाहाबाद और कौशांबी जिले में मुहर्रम और दशहरे पर दो स्थानों पर हुई मारपीट में सात लोग लोग घायल हो गए। बलिया के सिकंदरपुर में रविवार की शाम ताजिया जुलूस को लेकर हुए बवाल के बाद जमकर आगजनी हुई। हालात बेकाबू होते देख पुलिस ने चार राउंड आंसू गैस के गोले छोड़े, लेकिन स्थिति बिगड़ती गई। उपद्रवियों ने बाइक, साइकिल समेत डेढ़ दर्जन दुकानों में आग लगा दी। इस दौरान चाकूबाजी में चार लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। कुशीनगर खड्डा थाने के भुजौली बाजार में रविवार को मुहर्रम जुलूस के दौरान ताजिएदारों व पुलिस के बीच झड़प हो गई, जिसमें एसओ विनय पाठक चोटिल हो गए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here