ब्रिटिश पीएम थेरेसा मे पर फिर बढ़ा कुर्सी छोड़ने का दबाव

0
179

ब्रिटिश प्रधानमंत्री थेरेसा मे की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। सत्तारूढ़ कंजर्वेटिव पार्टी के अंदर से फिर उन पर कुर्सी छोड़ने का दबाव बढ़ गया है।

पार्टी के पूर्व अध्यक्ष ग्रांट शैप्स ने थेरेसा के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। उन्होंने 30 अन्य सांसदों का समर्थन होने का दावा किया है। नियमानुसार 48 सांसदों के एकजुट होने पर पार्टी अध्यक्ष को पत्र लिखकर नेतृत्व परिवर्तन की मांग की जा सकती है। शैप्स की कोशिश है कि साप्ताहांत तक वह यह आंकड़ा हासिल कर लें।

थेरेसा के नेतृत्व में ब्रेक्जिट के बाद हुए संसदीय चुनाव में कंजर्वेटिव पार्टी का प्रदर्शन उम्मीद के अनुसार नहीं रहा था। इसके बाद पार्टी के अंदर से उनके खिलाफ असंतोष के स्वर उभर रहे हैं। ग्रांट ने कहा, ‘मेरी समझ में यही समय है जब हमें नेतृत्व के मसले को निपटाना होगा। मैं इस मुद्दे को व्यक्तिगत तौर पर थेरेसा मे के सामने रखना चाहता था, लेकिन अब यह सार्वजनिक हो रहा है।’

ग्रांट के इस कदम के बाद पार्टी के कई नेता थेरेसा के समर्थन में आ गए हैं। गौरतलब है कि जून में हुए आम चुनाव के बाद से ब्रिटिश प्रधानमंत्री के इस्तीफे की मांग बढ़ गई है। चुनाव में उनकी पार्टी संसद में बहुमत खो बैठी थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here