ऋतिक रोशन के बचाव में उतरे फरहान अख्तर, कंगना रनोट के लिए लिखा ये…

0
181

ऋतिक रोशन और कंगना रनोट के बीच की जंग है कि खत्म होने का नाम ही नहीं ले रही है. धीरे-धीरे फिल्म इंडस्ट्री के सेलेब्स भी इस मुद्दे पर अपनी बात रख रहे हैं. कुछ सेलेब्रिटी ऋतिक रोशन के पक्ष में खुलकर सामने आ रहे हैं. अब एक्टर फरहान अख्तर खुलकर उनके पक्ष में आ गए हैं. फरहान अख्तर ने ऋतिक रोशन की अभिनेत्री कंगना रनोट के साथ चल रही लड़ाई में उनका (ऋतिक) समर्थन किया है. फरहान ने ऋतिक के बचाव में बिना किसी का नाम लिए फेसबुक पर एक खुला पत्र लिखा. वे उनके साथ फिल्म ‘जिंदगी ना मिलेगी दोबारा’ और ‘लक बाई चांस’ में काम कर चुके हैं. फरहान ने इस बात का जिक्र किया कि मीडिया ने कैसे ऋतिक के साथ पक्षपात किया और सिर्फ एक पक्ष की बातों को लोगों के सामने पेश किया. उन्होंने यह भी कहा कि अगर दोनों पक्षों की स्थिति को रिवर्स कर दिया जाता तब कैसी स्थिति होती.
फरहान ने लिखा, “आज, मैंने एक शख्स द्वारा एक महिला को लिखा खुला पत्र पढ़ा जिन्हें मैं पेशेवर तौर पर जानता हूं, बहुत अच्छी तरह से..हालांकि, दोनों के बीच विवाद पिछले कुछ समय से सुर्खियों में है, लेकिन जहां तक मैं जानता हूं कि यह पहली बार है कि उस शख्स ने अपना नजरिया जाहिर किया है. यह मेरा अधिकार नहीं है कि मैं उनके हालातों के हिसाब से कौन सही है या गलत है इसका फैसला करूं, यह पता लगाना साइबर अपराध अधिकारियों का काम है, लेकिन मुझे निश्चित तौर पर ऐसा लगता है कि जिस तरह से घटनाक्रम सामने आए हैं, उस पर टिप्पणी किए जाने की जरूरत है.”
सामाजिक अभियान मर्द यानी मैन अगेंस्ट रेप एंड डिस्क्रिमिनेशन के संस्थापक फरहान ने कहा, “यह डरावना लेकिन सच है कि दुष्कर्म के कुछ मामलों में समाज का एक वर्ग भुक्तभोगी को ही दोषी ठहराता है. मैंने हमेशा इसे अस्वीकार्य पाया है. हालांकि, यह सच है कि अधिकांश मामलों में महिला को गलत समझा जाता है, लेकिन ‘अधिकांश’ और ‘सभी’ में अंतर है.”

अभिनेता ने कहा, “ऐसे भी मामले सामने आए हैं, जहां पुरुषों का पीछा किया गया है.” फरहान ने इस बात का जिक्र किया कि ऋतिक ने अपने निजी फोन और लैपटॉप संबंधित अधिकारियों को सौंप दिए हैं, जबकि कंगना ने ऐसा करने से परहेज किया. उन्होंने एक पार्टी के दौरान दोनों कलाकारों की तस्वीर का जिक्र भी किया, जिसे उन्होंने तस्वीर के साथ ‘छेड़छाड़’ बताया. अभिनेता ने कहा कि उन्होंने इस मामले में कुछ बोलना इसलिए उचित समझा क्योंकि कुछ लोग पहले से ही निष्कर्ष निकालने लगे हैं.
फरहान ने लोगों से अप्रमाणित बयान के आधार पर किसी शख्स को तब तक बदनाम नहीं करने का आग्रह भी किया, जब तक कि अधिकारियों द्वारा निकाला गया कानूनी निष्कर्ष सामने नहीं आ जाता. उन्होंने कहा, “हमें भेदभाव नहीं करना चाहिए.” फिल्मकार करण जौहर, अभिनेत्री यामी गौतम और सोनम कपूर ने इस मामले में फरहान से सहमति जताई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here