प्लास्टिक बोरियों में सैनिकों के शव रखे जाने से आक्रोश, सेना ने दी सफाई

0
379

अरुणाचल प्रदेश के तवांग में हेलीकॉप्टर हादसे में जान गंवाने वाले सात वायुसेना कपीटीआई)र्मियों के शवों को प्लास्टिक की बोरियों रखकर फिर उन्हें गत्तों में बांधकर लाए जाने की तस्वीरें सामने आने के बाद से लोगों में आक्रोश है।

इस मामले में सेना ने एक बयान जारी कहा है कि ऊंचाई वाले क्षेत्रों में लाने ले जाने में काफी दिक्कत होती है क्योंकि हेलीकॉप्टर पूरा लोड नहीं ले जा पाते। सैनिकों के शवों को बॉडी बैग या ताबूतों की बजाय उपलब्ध स्थानीय संसाधनों में लपेटा गया था। यह असामान्य है। हालांकि, गुवाहाटी बेस हॉस्पिटल में पोस्टमार्टम के तुरंत बाद उनके शवों को पूरे सैनिक सम्मान के साथ लकड़ी के ताबूतों में रखा गया था। इसके बाद उनके संबंधित परिजनों को भेज दिया गया। अधिकारियों के मुताबिक, इन सैनिकों के शवों की ये तस्वीरें उस वक्त खींची गई थीं जब उन्हें गुवाहाटी लाया गया था।

दरअसल, लेफ्टिनेंट जनरल (सेवानिवृत्त) एचएस पनाग ने इन तस्वीरों को ट्विटर पर साझा किया था। साथ ही उन्होंने लिखा था कि सैनिकों को ऐसे घर लाया गया। इसके बाद ट्विटर पर लोगों ने इस पर गहरा दु:ख व्यक्त किया। बता दें कि शुक्रवार को तवांग में एमआइ-17 हेलीकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। इसमें दो पायलट और पांच वायुसेना कर्मियों की मौत हो गई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.