बिहार में डाकघर होंगे स्मार्ट, गांव-गांव तक लगेंगे एटीएम

0
228

पटना । विश्व डाक दिवस पर डाक विभाग की ओर से प्रदेश को बड़ा तोहफा मिला है। राज्य के अधिकांश गांवों के डाकघरों को एटीएम से जोड़ा जाएगा। इसके लिए पूरे राज्य में 9000 से अधिक माइक्रो एटीएम लगाए जाएंगे।

यही नहीं सभी डाकघरों को सीबीएस से जोडऩे की कवायद भी शुरू कर दी गई है। इसके साथ पटना समेत प्रमुख शहरी क्षेत्रों में अपनी उपस्थिति का अहसास कराने और ग्राहकों को अधिक से अधिक सुविधा देने के लिए डाक विभाग अब 100 से अधिक एटीएम लगाने जा रहा है।

बताया गया कि अब तक शहरी क्षेत्रों के 3740 डाकघरों को सीबीएस (कोर बैंकिंग सॉल्यूशन) से कनेक्ट कर दिया गया है। ग्रामीण क्षेत्रों के डाकघरों को भी सीबीएस से जोड़े जाने की कवायद तेज है। पोस्ट मास्टर जनरल पूर्वी क्षेत्र अनिल कुमार ने बताया कि 63000 शाखाओं को सीबीएस से कनेक्ट कर डाक विभाग ने रिकॉर्ड कायम किया है।

सूबे के ग्रामीण क्षेत्रों में इस सिस्टम को शुरू कर दिया जाएगा, जिससे दूरदराज के गांवों में रहने वाले लोगों को भी शहर के बड़े बैंकों की तरह सुविधाएं मिलने लगेंगी। श्री कुमार ने कहा कि विभाग के एटीएम से महीने में जितनी बार भी राशि निकालेंगे, कोई शुल्क नहीं देना होगा।

जबकि अन्य बैंकों में 3 व 5 ट्रांजैक्शन का बैरियर लगा हुआ है। दूसरे बैंकों के खाते पर आयकर देना होता है, परंतु डाकघर के पीपीएफ व सुकन्या समृद्धि योजना के खाते में परिपक्वता के बाद भी कोई टैक्स नहीं देना पड़ता है। यहां मिनिमम बैलेंस भी 50 रुपये ही रखा गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here