प्रधानमंत्री दे सकते हैं बिहार को यह सौगात, आगमन की तैयारी पूरी

0
209

चल रही है नरेंद्र मोदी के आगमन की तैयारी
पटना : पीएम नरेंद्र मोदी बिहार को बाढ़ राहत का सौगात जल्द ही दे सकते हैं. दिल्ली में इसकी तैयारी चल रही है. बिहार के बाढ़ प्रभावित 19 जिलों का दौरा कर लौटी केंद्रीय टीम के सदस्य अपनी रिपोर्ट को अंतिम रूप देने में जुटे हैं.

पीएम मोदी 14 अक्टूबर को प्रदेश के दौरे पर आ रहे हैं. यहां वे कई कार्यक्रमों का शिलान्यास करेंगे. इस दौरान वे बाढ़ राहत के लिए बिहार को केंद्रीय मदद का एलान कर सकते हैं. इसे प्रदेश में जदयू-भाजपा गठबंधन की सरकार के फीलगुड फैक्टर के रूप में देखा जा रहा है.
सूत्रों की मानें तो बिहार के बाढ़ प्रभावित जिलों का दौरा करने वाली केंद्रीय टीम को निर्देश दिया गया है कि वे अपनी रिपोर्ट जल्द सौंप दें. इसके आधार पर 13 अक्टूबर तक केंद्रीय सहायता राशि आवंटन को अंतिम रूप दे दिया जायेगा.

अपने बिहार दौरे में पीएम मोदी इसके आधार पर सौगातों की घोषणा करेंगे. दरअसल केंद्रीय टीम के सदस्य प्रदेश सरकार के जल संसाधन, आपदा प्रबंधन, सड़क परिवहन, कृषि विभाग, ग्रामीण, पशु एवं मत्स्य संसाधन विभागों के आला अधिकारियों के साथ बाढ़ से हुये नुकसान का जायजा लेने गये थे. इस दौरान उन्होंने सभी जिले में स्थानीय लोगों और अधिकारियों से विस्तार से बातचीत की.

इस टीम में शामिल सूत्रों की मानें तो केंद्रीय टीम के सदस्यों ने बाढ़ प्रभावित इलाकों में स्थानीय लोगों से विस्तार से बातचीत की. उन्होंने बाढ़ के समय का फोटो और वीडियो देखा.

इस दौरान बाढ़ से लोगों और पशुओं की मौत, फसल नुकसान, घर और धन की क्षति, सड़क, पुल-पुलिया व बांध का नुकसान और बाढ़ पीड़ितों को मिलने वाले मुआवजे आदि के बारे में विस्तार से जानकारी ली. इसमें आने वाली अड़चनों के बारे में उन्होंने स्थानीय जनप्रतिनिधियों और जिले के अधिकारियों से बातचीत की.

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि गंगा पानी के प्रदूषण को दूर करने के सरकार के प्रयास के तहत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 14 अक्तूबर को पटना में चार सीवेज टरीटमेंट प्लांटों की आधारशिला रखेंगे. नदी विकास और गंगा पुनरुद्वार मंत्री ने कहा कि एसटीपी की कुल क्षमता 14 करोड़ लीटर प्रतिदिन है जिसकी अनुमानित लागत 738.14 करोड़ रुपये है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 14 अक्तूबर (शनिवार) को पटना आ रहे हैं. वह यहां करीब पांच घंटे रहेंगे और दो महत्वपूर्ण कार्यक्रमों में शामिल होंगे. यहां पटना विश्वविद्यालय में शताब्दी वर्ष समारोह कार्यक्रम में वह बतौर मुख्य अतिथि शामिल होंगे. इसके बाद वह मोकामा में आयोजित कार्यक्रम में शामिल होंगे. अब तक उनका कोई भी स्पष्ट कार्यक्रम नहीं आया है.

लेकिन अनुमानित कार्यक्रम के अनुसार, वह सुबह करीब 10:35 बजे पर पटना एयरपोर्ट पर लैंड करेंगे. इसके बाद वह सीधे कार्यक्रम स्थल पर करीब 11 बजे पटना विश्वविद्यालय पहुंचेंगे. वहां से बाद वह करीब 12:30 बजे कार्यक्रम से निकलेंगे और फिर पटना एयरपोर्ट आयेंगे और यहां से हेलीकॉप्टर से मोकामा जायेंगे. मोकामा में करीब दो घंटे रहने के बाद प्रधानमंत्री वापस पटना एयरपोर्ट लौट आयेंगे. इसके बाद वह दोपहर करीब तीन बजे वापस नयी दिल्ली के लिए विशेष विमान से रवाना हो जायेंगे.
आउटलुक बनेगा आकर्षक

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आगमन को लेकर एयरपोर्ट से पटना विश्वविद्यालय तक कई सरकारी भवनों को चिह्नित किया गया है, जिसका आउटलुक आकर्षक बनाया जायेगा. जिन भवनों के सामने लाइटें नहीं लगी होंगी उन भवनों के पास रोशनी की पुख्ता व्यवस्था की जायेगी. फैसले के बाद रास्तों पर लाइटिंग व सीसीटीवी कैमरे लगाने का काम तेजी से शुरू हो गया है.

विमानों के आवागमन पर 50 मिनट तक रोक: 14 अक्तूबर को पीएम का विमान शनिवार की सुबह 10:40 बजे पटना पहुंचेगा. इस कारण पटना एयरपोर्ट से उड़ान भरने व उतरने वाले विमानों के समय में बदलाव प्रभावी होगा. पीएम का विमान लैंड होने के 25 मिनट पूर्व से 25 मिनट बाद तक विमानों के आवागमन पर रोक लगी रहेगी.

शहर के धोवा पुल के पास पटना से दनियावां जाने के दौरान बुधवार की सुबह कृषि मंत्री प्रेम कुमार का भाजपा कार्यकर्ताओं ने माला पहनाकर भव्य स्वागत किया. इस दौरान उन्होंने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए 14 अक्तूबर को मोकामा में पीएम की प्रस्तावित सभा में भाग लेने का न्योेता दिया. साथ ही बख्तियारपुर में प्रेम कुमार ने मोकामा पहुंचने की अपील की.

मोकामा : प्रधानमंत्री की प्रस्तावित सभा को लेकर मुख्य सचिव अंजनी कुमार सिंह बुधवार को मोकामा पहुंचे. उन्होंने चौहरमल द्वार के पास सभा स्थल का निरीक्षण किया. मौके पर जिलाधिकारी संजय कुमार अग्रवाल, एसएसपी मनु महाराज, एसडीओ सुब्रत कुमार सेन व एएसपी मनोज तिवारी समेत कई अधिकारी मौजूद थे.

मुख्य सचिव ने सभा स्थल का जायजा लिया और विधि-व्यवस्था की पड़ताल की. वहीं, अधिकारियों को कई जगहों पर व्यवस्था में सुधार की सलाह दी. मंच व पंडाल के निर्माण का कार्य बारिश को लेकर थोड़ा बाधित हुआ. इधर, पीएम की सभा को लेकर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष नित्यानंद राय भी बुधवार को मोकामा पहुंचे. उन्होंने भी सभा स्थल का जायजा लिया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here