बिहार के शेखपुरा में इंडियन बैंक की शाखा से दिनदहाड़े 22.67 लाख की लूट, तीन हिरासत में

0
474

बिहार में शेखपुरा में टाउन थाना क्षेत्र के सबसे व्यस्त इलाका कटरा बाजार स्थित इंडियन बैंक की शाखा में घुस कर आधे दर्जन हथियारबंद अपराधियों ने आज दिनदहाड़े 22 लाख 64 की डकैती कर ली. लूट की वारदात को अंजाम देने के साथ ही अपराधी अपने साथ बैंक परिसर के सीसीटीवी कैमरे का हार्ड डिस्क भी ले गये. बृहस्पतिवार की सुबह यह घटना तब घटी जब 10:20 पर शाखा प्रबंधक बैंक परिसर के अंदर प्रवेश कर रहे थे. तभी मुख्य द्वार पर ही अपराधियों ने पीछे से धक्का दे दिया और बैंक की सीढ़ी पर खड़े ग्राहकों को अंदर की ओर धकेल दिया. इसके बाद हथियार की नोक पर लूट की घटना को अंजाम देना शुरू किया. जानकारी के मुताबिक पुलिस ने इस मामले में तीन लोगों को हिरासत में लिया है. जिनसे पूछताछ की जा रही है.

करीब 25 मिनट तक चले डकैती के इस घटना में अपराधियों ने गोपालगंज निवासी शाखा प्रबंधक पंकज कुमार पर पिस्टल की बट और पिलास से प्रहार कर गंभीर रूप से जख्मी कर दिया. शाखा प्रबंधक ने घटना की जानकारी देते हुए बताया कि घटना को अंजाम देने आये अपराधी पिस्टल चाकू एवं धारदार हथियार से लैस होकर आये थे. बैंक परिसर के अंदर घुसते ही पिस्टल का भय दिखाकर सभी ग्राहकों को जमीन पर बैठा दिया. इस दौरान कुल एक दर्जन ग्राहकों में अधिक महिलाएं ही थी. हथियार देख बैंक परिसर में सभी सहम गये थे.

अपराधियों ने बैंक परिसर में सभी का मोबाइल छीन लिया. साथ ही वहां तैनात कर्मियों को हथियार के नोक पर बंधक बना लिया. अपराधीयों ने बैंक प्रबंधक से कैश भोल्ट का चाबी मांग रहे थे. इस दौरान काफी देर तक अपराधियों का शाखा प्रबंधक के साथ नोकझोंक हुआ. अपराधियों ने भय कायम करने के लिए करने के लिए शाखा प्रबंधक को उनके चेंबर से घसीटकर वोल्ट की ओर ले गये और मारपीट कर उन्हें जख्मी कर दिया. इसके बाद भी प्रबंधक ने चाभी देने से इनकार किया तब पिस्टल तान कर गोली मारने की धमकी दी. तभी दूसरे कर्मियों के कहने पर शाखा प्रबंधक ने कैश भोल्ट की चाबी अपराधियों को सौंप दी.

अपराधियों ने कैश भोल्ट खाली कर अपने साथ लाये थैले में नोटों को भर कर भाग निकले. भागते समय अपराधियों ने बैंक ग्राहकों से छीने गये मोबाइल को फेंक कर मेन गेट में बाहर से भी ताला जड़ दिया और मौके से फरार हो गये. इस दौरान बाहरी लोगों को मदद में पुकारने के लिए बाहरी खिड़की के शीशे को तोड़ कर शोर मचाया गया. तब जाकर लोगों की भीड़ जुटी. लेकिन, तब तक अपराधी मौके से फरार हो चुके थे.

घटना की जानकारी देते हुए शाखा प्रबंधक ने बताया कि इस घटना की सूचना तत्काल एसपी, डीएम को देना चाहा, लेकिन डीएम ने फोन ही नहीं उठाया. घटना के बाद करीब आधे घंटे तक बैंक परिसर के अंदर ही बंद जख्मी शाखा प्रबंधक जहां सिर में लगे चोट की इलाज के लिए तड़पते रहे. वहीं दूसरी ओर घटना के बाद दहशत के साये में बैंक ग्राहक जल्द से जल्द शाखा से बाहर निकलने के लिए तड़पते दिखे.

घटना के करीब आधे घंटे बाद मौके पर पहुंचे एसडीपीओ अमित शरण, डीएसपी मुख्यालय राजकिशोर सिंह समेत अन्य पुलिस अधिकारी बैंक परिसर पहुंचकर मामले की छानबीन की. साथ ही शेखपुरा के सभी सीमा क्षेत्रों को पूरी तरह सील कर दिया गया है. इस घटना को लेकर एसडीपीओ ने बताया कि बैंक कर्मी और ग्राहकों की निशानदेही पर अपराधियों की पहचान करने की कार्रवाई की जा रही है. वहीं दूसरी तरफ घटना को लेकर बैंक के बड़े अधिकारियों के आगमन के बाद शाखा प्रबंधक के प्रधान को लेकर प्राथमिकी दर्ज करने की कार्रवाई की जायेगी. फिलहाल अपराधियों की धर पकड़ में छापेमारी की जा रही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.